अमेठी: केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के वायनाड के लिए नामांकन से पहले उन पर निशाना साधा है. स्मृति ईरानी गुरुवार को अमेठी दौरे पर हैं. ईरानी ने कहा कि अमेठी के लोगों के समर्थन से 15 साल तक सत्ता का सुख भोगने वाले राहुल गांधी कहीं और से नामांकन कर रहे हैं. यह अमेठी के लोगों का अपमान है. यहां के लोग इसे बर्दाश्त नहीं करेंगे.

 

उन्होंने कहा कि चुनावी ‘रीजन’ और ‘सीजन’ देख जनेऊ धारण करने वाले राहुल गांधी देश के टुकड़े करने वाले गैंग के साथ अपनी जीत सुनिश्चित करना चाहते हैं. स्मृति अमेठी से भाजपा की उम्मीदवार बनने के बाद पहली बार यहां आ रही हैं. इस दौरान स्मृति कई कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगी और पार्टी का प्रचार करेंगी. अमेठी में उनका पहला कार्यक्रम शहर के ज्ञान भारती इंटर कालेज में होगा. इसके बाद वे एक किसान सम्मेलन में भी हिस्सा लेंगी.

Lok Sabha Election 2019: यूपी में चुनाव से पहले गठबंधन को झटका, कई नेता BJP में शामिल

अमेठी का गणित
भाजपा की कोशिश है कि खासकर अमेठी में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल को हराकर इस पार्टी को सबसे बड़ी चोट दी जाए. राहुल के अमेठी के साथ—साथ केरल की वायनाड सीट से भी चुनाव लड़ने के ऐलान को भाजपा उनके ‘पलायन’ के तौर पर पेश कर रही है. बता दें कि भाजपा जहां पिछले 15 साल से सांसद राहुल पर अमेठी के विकास पर ध्यान ना देने का आरोप लगाकर उनकी नाकामियां गिना रही है, वहीं कांग्रेस का आरोप है कि भाजपा ने पिछले पांच साल में अमेठी को कुछ देने के बजाय उससे काफी कुछ छीना ही है.

Lok Sabha election 2019: पश्चिमी यूपी में BJP ने प्रचार में झोंकी ताकत, विपक्षी हैं सुस्त 

नेहरू-गांधी परिवार का गढ़ है अमेठी
बता दें कि अमेठी हमेशा से कांग्रेस का, खासकर नेहरू-गांधी परिवार का गढ़ रहा है. राहुल गांधी पिछले 15 साल से यहां के सांसद हैं. वर्ष 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशी स्मृति ईरानी ने उन्हें कड़ी टक्कर दी थी. इस बार वह फिर उनके मुकाबले खड़ी हैं.

भीम सेना प्रमुख ने अखिलेश-मुलायम को बताया BJP का एजेंट, कहा- नहीं लड़ेंगे वाराणसी से चुनाव