लखनऊ: राफेल करार को लेकर कांग्रेस और सत्ताधारी भाजपा के बीच जुबानी जंग तेज हो गयी है. उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की नरेन्द्र मोदी के खिलाफ की गयी ‘चोरों का सरदार’ वाली टिप्पणी पर पलटवार करते हुए आज राहुल को ‘झूठ का शहंशाह’ बताया. सिंह ने यहां संवाददाताओं को सवालों के जवाब में कहा कि राहुल गांधी शाहजादा के नाम से जाने जाते थे. अब वह झूठों के शहंशाह बन चुके हैं.Also Read - UP: BJP समर्थित बागी सपा विधायक नितिन अग्रवाल बड़े अंतर से यूपी विधानसभा के उपाध्यक्ष चुने गए, CM योगी ने SP पर हमला किया

Also Read - Rahul Gandhi Defamation Case: राहुल गांधी के खिलाफ मानहानि मामले में सुनवाई 13 नवंबर तक टली, जानिए पूरा मामला

Also Read - सुना है कि बीजेपी अपने 150 MLA के टिकट काटने जा रही... हमने 300 सीटों को पार कर लिया: अखिलेश यादव

उन्होंने कहा कि राहुल भ्रमित करने का प्रयास कर रहे हैं … सौ दफा एक झूठ बोलो तो वह सच हो जाता है. यह पूछे जाने पर कि राहुल की टिप्पणी का आगामी लोकसभा चुनाव पर असर पड़ेगा क्या, सिंह ने कहा कि आगामी चुनाव पर इसका कोई असर नहीं पड़ेगा. स्वास्थ्य मंत्री एवं राज्य सरकार के प्रवक्ता सिंह ने कहा कि राहुल बतायें कि दसाल्ट कंपनी के साथ रिलायंस ने 2012 में करार किया था या नहीं. जब इस बात को और स्पष्ट करने को कहा गया तो सिंह ने कहा कि 2012 करार पर आरोप लगाने वाला ही जवाब दे तो अच्छा है.

राहुल बोले- राफेल, ललित मोदी, माल्या, नोटबंदी, गब्बर सिंह टैक्स, सब में चोरी- दिखा देंगे पीएम चौकीदार नहीं

राहुल गांधी ने ट्वीट कर मोदी को चोरों का सरदार बताया

उल्लेखनीय है कि राहुल गांधी ने ट्वीट कर मोदी को चोरों का सरदार बताया था. उन्होंने राफेल विवाद पर प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया और मोदी को चोरों का सरदार (इंडियाज कमांडर इन थीफ) बताया था.