लखनऊ: यूपी के गाजीपुर जिले के विधायक कृष्णानंद राय हत्याकांड के आरोपी बदमाश राकेश पांडेय को यूपी पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया है. पांडेय पर 1 लाख रुपये का इनाम था. आरोपी का नाम सुर्खियों में तब आया जब मुन्ना बजरंगी संग मिलकर इसने भाजपा विधायक कृष्णानंद राय की हत्या की थी. यह एनकाउंटर लखनऊ के सरोजनी नगर में हुआ. इसी दौरान राकेश पांडेय को यूपी एसटीएफ ने मार गिराया. Also Read - Corona Vaccine की बड़ी खबर: यूपी के इन दो शहरों में जल्द शुरू होगा ‘Covaxin’ का थर्ड फेज ट्रायल

राकेश पांडे मऊ जिले का रहने वाला है. मुन्ना बजरंगी की हत्या के बादा माना जाने लगा कि मुख्य अंसारी का दाहिना हाथ राकेश पांडेय बन चुका है. राकेश पांडेय मऊ में ठेकेदार अजय प्रकाश की सिंह और मन्ना सिंह की हत्या में भी मुख्तार अंसारी संग आरोपी था. राकेश पांडेय के उपर यूपी के कई जिलों में अपराधिक वारदातों को अंजाम देने का आरोप है साथ ही 10 से अधिक मुकदमें इसके उपर थे. Also Read - आम आदमी पार्टी के नेता और सांसद संजय सिंह रविवार को हजरतगंज थाने में होंगे पेश, जानिए क्या है मामला

एसटीएफ के एसएसपी सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि वाराणसी एसटीएफ और लखनऊ एसटीएफ को बदमाश राकेश पांडेय को लेकर इनुपट मिली थी. इस दौरान एसटीएफ ने पांडेय के कार का पीछा किया और लखनऊ-कानपुर हाईवे पर रोकने की कोशिश की लेकिन इस दौरान आरोपी ने एसटीएफ की टीम पर फायरिंग की. इसके जवाब में एसटीएफ ने बदमाश को मार गिराया. Also Read - 15 साल की लड़की से गैंगरेप कर VIDEO किया था VIRAL, एनकाउंटर में आरोपी अरेस्‍ट, सब-इंस्‍पेक्‍टर भी घायल

बता दें कि साल 2006 में मोहम्मदाबाद से भाजपा विधायक कृष्णानंद राय की राकेश पांडेय और मुन्ना बजरंगी व इनके अन्य साथियों ने मिलकर हत्या कर दी थी. इस दौरान एके 47 जैसे अवैध हथियारों का भी इस्तेमाल किया गया था. इस दौरान लगभग 400 से अधिक गोलियां चलाई गई थी.