अयोध्या: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को कहा कि प्रधानमंत्री मोदी की दूरदर्शिता के कारण यह गौरव के क्षण का अवसर प्राप्त हुआ है. उन्होंने कहा कि कई पीढ़ियों के गुजर जाने के बाद आखिरकार संविधान सम्मत और शांतिपूर्ण तरीके से राम मंदिर के निर्माण की शुभ घड़ी आई है. Also Read - 3 अक्टूबर को होगा अटल टनल का उद्घाटन, पीएम मोदी के साथ कंगना रनौत भी होंगी शामिल

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन के बाद योगी ने कहा, “श्रीराम जन्मभूमि में राम मंदिर निर्माण की इस घड़ी की प्रतीक्षा में हम सब की कई पीढ़ियां चलीं गईं. अनेक लोगों ने अपनी आंखों के सामने ब्रह्मांड नायक मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम के मंदिर निर्माण को देखने के लिए बलिदान दिया. साधना चलती रही.” Also Read - पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने केंद्र सरकार से की यह खास मांग, बोले- सरकार देश के भविष्य की चिंता करे

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, “प्रधानमंत्री मोदी की दूरदर्शिता के कारण यह गौरव के क्षण का अवसर प्राप्त हुआ है. उनका हृदय से स्वागत करता हूं. अवधपुरी के बारे में जो सपना हम सबने देखा था, मुझे लगता है कि आज इसका अहसास तीन वर्ष पहले दीपोत्सव के कार्यक्रम के साथ आप सबने महसूस किया था. आज उस कार्यक्रम की सिद्धि के रूप में प्रधानमंत्री के कर कमलों से इस अवसर पर राम जन्मभूमि के दिव्य मंदिर के निर्माण के शुभारंभ को देखने का अवसर प्राप्त हुआ है.” Also Read - पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र से होंगी पहली महिला राफेल पायलट, वाराणसी के नाम जुड़ा एक और कीर्तिमान

उन्होंने कहा, “राम मंदिर का निर्माण राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र न्यास करेगा. जबकि अवधपुरी को दुनिया का वैभवशाली नगरी के विकास के रूप में संकल्प के लिए हम सब प्रतिबद्ध हैं.”

(इनपुट आईएएनएस)