नई दिल्‍ली: उत्‍तर प्रदेश की योगी आदित्‍यनाथ सरकार लगातार भू-माफिया और दबंगों के खिलाफ सख्‍त कार्रवाई कर रही है. यूपी के प्रभावशाली मुख्‍तार अंसारी, अतीक अहमद के खिलाफ को कार्रवाई की मुहिम चलाए ही हुए है, लेकिन अब समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान के खिलाफ भी एक बार फिर बड़ी कार्रवाई के आदेश दिए हैं. Also Read - इलाहाबाद हाईकोर्ट ने हाथरस गैंगरेप में लिया स्वत: संज्ञान, DGP, ADG , DM और SP से मांगा जवाब

यूपी की योगी अब आजम खान की पत्‍नी के नाम से हमसफर रिजॉर्ट को ढहाने का आदेश दिया है. जानकारी के मुताबिक, रामपुर विकास प्राधिकरण ने एक रिजॉर्ट को ध्‍वस्‍त करने के निर्देश दिए हैं. यह लग्‍जरी रिजॉर्ट समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान की पत्‍नी तंजीन फातमा से संबंधित है. Also Read - UP: भदोही में शौच के लिए निकली 14 साल की दलित लड़की का मर्डर, खेत में मिली डेडबॉडी पर चाकू से जख्‍म

रामपुर के एडीएम जेपी गुप्‍ता ने कहा, हमसफर रिजॉर्ट का प्‍लान आरडीए से स्‍वीकृत नहीं था और पहले ही एक नोटिस भेजा जा चुका है. अब ताजीन फातमा के पते पर नोटिस भेजा गया है. Also Read - हाथरस गैंगरेप की घटना से नाराज बॉलीवुड ने मांगा न्याय, इन एक्‍टर-एक्‍ट्रेसेस ने उठाई आवाज

मुख्तार अंसारी के अवैध कब्जे वाले भूखंड़ों को खाली कराने की मुहिम जारी
मऊ में बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी द्वारा अवैध रूप से कब्जा किए गए भूखंड़ों को खाली कराने की प्रशासन की मुहिम शनिवार को भी जारी रही और एक भूखंड पर बने गोदाम को बुलडोजर से ढहा दिया गया. जिलाधिकारी ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी ने बताया कि गोदाम अंसारी की पत्नी के नाम पर था और इसमें कुल चार साझेदार हैं. गोदाम बनाने के लिए अवैध रूप से ग्राम समाज की जमीन पर कब्जा कर गया लिया था. ग्राम समाज की जमीन का अवैध तरीके से दाखिल-खारिज करा लिया गया था.

मुख्तार अंसारी की पत्नी और साले के नाम था गोदाम
इस गोदाम के मामले में और भी जांच चल रही है, जिसमें कई और काश्तकारों के नाम शामिल हैं और जिसका अभी जल्द ही एग्रिमेंट कराकर लिखवाने का काम किया गया. गोदाम मुख्तार अंसारी की पत्नी आफसा अंसारी और साले आतिफ अंसारी के नाम पर था.

मुख्‍तार के करीबी का बूचड़खाना ढहाया
पहले शुक्रवार को मऊ जिले के सदर विधानसभा से बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के करीबी सहयोगी रईस कुरैशी के अवैध बूचड़खाने को जिला प्रशासन ने गिरा दिया था.