रामपुर: समाजवादी पार्टी (सपा) के रामपुर से सांसद आजम खान की परेशानियां कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. जौहर विवि का मामला अभी ठंडा नहीं हो पाया था कि शुक्रवार को उनके हमसफर रिसॉर्ट की दीवार पर बुलडोजर चला दिया गया. रिसॉर्ट की जिस दीवार को तोड़ा गया है, उसे लेकर सिंचाई विभाग ने पहले ही सांसद आजम खान को नोटिस जारी कर दिया था. यह रिसॉर्ट उनके बेटे अब्दुल्ला के नाम पर है.

 

सिंचाई विभाग ने आरोप लगाया है कि रिसॉर्ट की यह दीवार सिंचाई विभाग की जमीन पर बना हुआ है. आजम खान को नोटिस देने के बाद भी इस पर कोई कदम नहीं उठाया गया, इसीलिए हमें यह कदम उठाना पड़ा है. सिंचाई विभाग की टीम पुलिस बल को लेकर मौके पर पहुंचीं और रिसॉर्ट की दीवार को तोड़ दिया. विरोध को देखते हुए भारी पुलिस बल तैनात किया गया. जिला प्रशासन इसे लेकर मुस्तैद है. पुलिस को भी इस कार्रवाई की सूचना दी गई है. उप जिलाधिकारी ने तीन सप्ताह पहले ही हमसफर रिसॉर्ट के एक हिस्से को तोड़ने के आदेश दिए थे. यह दीवार सिंचाई विभाग की एक हजार वर्ग गज भूमि पर बनी थी.

पसियापुरा शुमाली से बड़कुसिया नाले की है यह जमीन
रामपुर के जिलाधिकारी आंजनेय कुमार सिंह ने कहा कि यह जमीन पसियापुरा शुमाली से बड़कुसिया नाले की है. नाले पर कब्जे से जल निकासी में दिक्कत हो रही है. सिंचाई विभाग की ओर से अवैध कब्जा हटाने के लिए नोटिस दिया गया है. इस पर कोई सुनवाई न होने के कारण इसे तोड़कर हटाया जा रहा है. आजम खान पर आरोप है कि अखिलेश यादव की सरकार के कार्यकाल में रिसॉर्ट के लिए उन्होंने सिंचाई विभाग के नाले की एक हजार वर्ग गज जमीन पर अवैध कब्जा कर रखा है.

मुलायम सिंह यादव ने किया था इस रिसॉर्ट का उद्घाटन
सिंचाई विभाग इस मामले में कई बार आजम खां को नोटिस भी जारी कर चुका है. उधर से कोई जवाब न मिलने पर आज कार्रवाई की जा रही है. ज्ञात हो कि समाजवादी पार्टी की सरकार में आजम खान ने हमसफर रिसॉर्ट का निर्माण करवाया था. इस रिसॉर्ट का उद्घाटन पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने किया था. (इनपुट एजेंसी)