ललितपुर: उत्तर प्रदेश के ललितपुर जिले की सदर विधानसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक रामरतन कुशवाहा का एक विवादित बयान सामने आया है. गुरुवार को महरौनी कस्बे में आयोजित पार्टी के एक अभिनंदन समारोह में रामरतन कुशवाहा ने कहा कि अधिकारी और कर्मचारी यदि सम्मान न दे तो उसे जूता मारिए. बता दें कि यूपी की योगी सरकार के कुछ मंत्री और विधायक आए दिन ऐसे विवादित बयान देते रहते हैं जिससे पार्टी की फजीहत होती है.

 

उन्होंने कार्यकर्ताओं के सामने बड़ी तेज आवाज में कहा कि बर्दाश्त की भी एक हद होती है. भाजपा विधायक जब यह बोल रहे थे. उस दौरान उनके साथ मंच में कार्यक्रम में योगी सरकार के श्रम एवं सेवायोजन राज्यमंत्री मनोहर लाल पंथ और नव निर्वाचित सांसद अनुराग शर्मा मौजूद थे. हलांकि दोनों लोगों ने इस बयान से अपना किनारा कर लिया.

सपा-बसपा की मानसिकता वाले हैं कुछ अधिकारी-कर्मचारी
उन्होंने कहा कि कुछ अधिकारी और कर्मचारी समाजवादी पार्टी (सपा), बहुजन समाजवादी पार्टी (बसपा) की मानसिकता वाले हैं, जिन्हें सुधरने के लिए एक-दो महीने का समय दिया जाता है. उन्होंने राजस्व और पुलिस के कर्मचारियों को सर्तक रहने को कहा है.