मुजफ्फरनगर: जनपद के झिंगझांगा थाने पर नवनियुक्त थानेदार को बधाई देने रेप के प्रयास मामले का एक वांछित अपराधी खुद ही थाने पहुंच गया लेकिन वहां पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने उसे पहचान कर इसकी जानकारी जब थानेदार को दी तो उन्होंने तत्काल वांछित अभियुक्त को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे डाल दिया. वांछित पर शामली जिले में बलात्कार के प्रयास का केस दर्ज है.

मंदसौर रेप केस: BJP नेता ने कहा, जो आरोपियों के सिर काटेगा 5 लाख रुपये इनाम दूंगा

रेप के प्रयास व पुलिस टीम पर हमला मामले में था वांछित
बता दें कि इतवारी सिंह नाम का ग्राम प्रधान जो कि बलात्कार के प्रयास के मामले में और पुलिस की टीम पर हमला करने के मामले में वांछित चल रहा था. लेकिन उसके हौसले इतने बुलंद थे कि वो मंगलवार को थाने में ट्रान्सफर होकर नई नियुक्ति पर आए एसएचओ राजकुमार शर्मा को बधाई देने पहुंच गया लेकिन वांछित अभियुक्त को ऐसा करना भारी पड़ गया और पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया.

नाबालिग से रेप पर फांसी! पॉक्सो में संशोधन पर कैबिनेट में लग सकती है मुहर
क्षेत्राधिकारी राजेश कुमार तिवारी ने इस बाबत जानकारी देते हुए बताया कि थाने में मौजूद पुलिसकर्मियों ने राजकुमार शर्मा को बताया कि इतवारी सिंह दो मामलों में थाने में वांछित है. एसएचओ ने मामला समझते ही वांछित इतवारी सिंह को तत्काल गिरफ्तार कर लिया. सीओ राजेश कुमार तिवारी ने बताया कि ग्राम प्रधान इतवारी सिंह बलात्कार के प्रयास के मामले में और पुलिस के एक दल पर हमला करने के मामले में वांछित था. पुलिस मामले में आगे की कार्रवाई कर रही है. वांछित पर शामली जिले में बलात्कार के प्रयास का केस दर्ज है, जिसमें वो फरार चल रहा था.