मथुरा: उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले में रेप से प्रेग्‍नेंट पीड़िता और उसके भाई का आरोपियों ने तब अपहरण कर लिया जब युवती मेडिकल कराने के बाद अपने भाई के साथ लौट रही थी. दुष्कर्म के बाद गर्भवती हुई पीड़िता और उसके भाई का आरोपी पक्ष के लोगों ने हथियार के बल पर अपहरण कर लिया. Also Read - दिल्ली-NCR के साथ रोहतक में भी हिली धरती, घरों से बाहर निकल आए लोग, यूपी के कई इलाकों में जोरदार आंधी-पानी

पुलिस के मुताबिक, रास्ते में मौसम खराब होने पर उन्हें एक-दो जगह रुकना पड़ा. जब वे गांव पहुंचने ही वाले थे, तभी रास्ते में उन्हें कुछ लोग खड़े दिखाई दिए. आरोपियों के डर से इन लोगों ने अपनी बाइक वापस मोड़ने की कोशिश की तभी दर्जन भर लोगों ने तमंचा दिखा उन्हें पकड़ लिया. आरोपी लड़की और उसके भाई को जबरन गाड़ी में डालकर ले गए. Also Read - यूपी में कोरोना के 275 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 7,445 हुआ, बढ़ी मृतकों की संख्‍या

पुलिस के मुताबिक, जनपद के नौहझील थाना क्षेत्र में दुष्कर्म के बाद गर्भवती हुई पीड़िता और उसके भाई का आरोपी पक्ष के लोगों ने हथियार के बल पर अपहरण कर लिया. पीड़िता अपने पिता और भाई के साथ मेडिकल कराकर लौट रही थी. Also Read - यूपी: मंदिर में पुजारी और बेटे का शव मंदिर में मिला, हत्या की आशंका

नौहझील थाना प्रभारी विनोद कुमार ने मंगलवार को बताया कि दो दिन पूर्व दुष्कर्म के बाद गांव में किशोरी के गर्भवती होने का मामला सामने आया था, जिसके बाद पीड़िता के घरवालों ने गांव के एक युवक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था. उन्होंने कहा कि रविवार को लड़की अपने परिजनों और पुलिस के साथ मेडिकल कराने मथुरा गई थी.

कुमार ने बताया की शिकायत के मुताबिक, ”मेडिकल कराकर लड़की अपने पिता और भाई के साथ थाने लौट रही थी. रास्ते में मौसम खराब होने पर उन्हें एक-दो जगह रुकना पड़ा. जब वे गांव पहुंचने ही वाले थे, तभी रास्ते में उन्हें कुछ लोग खड़े दिखाई दिए. आरोपियों के डर से इन लोगों ने अपनी बाइक वापस मोड़ने की कोशिश की तभी दर्जन भर लोगों ने तमंचा दिखा उन्हें पकड़ लिया. आरोपी लड़की और उसके भाई को जबरन गाड़ी में डालकर ले गए.”

मामले की जानकारी मिलते ही वरिष्ठ पुलिस अधिक्षक डॉ. गौरव ग्रोवर समेत तमाम पुलिस अधिकारी रात में ही गांव पहुंच गए. एसएसपी ने पीड़ित परिवार से बातचीत कर उन्हें मदद का भरोसा दिलाया. रात भर पुलिस आरोपियों की तलाश में दबिश देती रही. कुमार ने बताया कि सोमवार सुबह लड़की और उसके भाई के गांव के बाहर होने की सूचना पुलिस को मिली. इस पर पुलिस ने उन्हें बरामद कर घरवालों को सौंप दिया. थानाध्यक्ष ने बताया कि इस मामले में 14 आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर तलाश की जा रही है.