नोएडा: संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) को लेकर दिल्ली के उत्तर पूर्वी हिस्से में अलग अलग जगहों पर हिंसा को देखते हुए नोएडा में रेड अलर्ट जारी कर दिया गया है. दिल्ली- नोएडा सीमा पर पुलिस सघन जांच कर रही है. सोमवार देर रात से ही नोएडा और दिल्ली को जोड़ने वाले सभी मार्गों पर अवरोधक लगा दिए गए हैं, वाहनों की जांच जारी है और पुलिस के आला अधिकारी रात से ही स्थिति पर नजर रखे हुए हैं. Also Read - Coronavirus: उत्तर प्रदेश में कोरोना के सात नए मामले, नोएडा में मिले चार पॉजिटिव, संक्रमितों की संख्या 50 हुई

पुलिस उपायुक्त (जोन प्रथम) संकल्प शर्मा ने मंगलवार को बताया कि दिल्ली- नोएडा सीमा पर पुलिस सघन जांच कर रही है. उन्होंने बताया कि सोमवार देर रात से ही नोएडा और दिल्ली को जोड़ने वाले सभी मार्गों पर अवरोधक लगा दिए गए हैं, वाहनों की जांच जारी है और पुलिस के आला अधिकारी रात से ही स्थिति पर नजर रखे हुए हैं. Also Read - VIDEO: Lockdown के दौरान मस्जिद में नमाज अदा की, बाहर निकलते ही पड़े पुलिस के डंडे

पुलिस उपायुक्त शर्मा ने बताया कि स्थिति शांतिपूर्ण है, लेकिन एहतियात के तौर पर पुलिस की गश्त बढ़ा दी गई है. डीसीपी ने बताया कि गुप्तचर एजेंसियों को भी सतर्क किया गया है और संवेदनशील क्षेत्रों पर नजर रखी जा रही है. Also Read - COVID-19: लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर पुलिस ने बनाया मुर्गा, सामान सहित रेंगने की मिली सजा

वहीं, अलीगढ़ शहर में आज रात 12 बजे तक मोबाइल इंटरनेट सेवाएं निलंबित रहेंगी. बता दें कि रविवार को अलीगढ़ के ऊपरकोट इलाके में उत्तर प्रदेश पुलिस और नागरिकता कानून विरोधी प्रदर्शनकारियों के बीच संघर्ष हो गया था.

बता दें कि उत्तर पूर्वी दिल्ली में संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) को लेकर भड़की हिंसा में एक हेड कांस्टेबल समेत सात लोगों की मौत हो गई. हिंसा में कम से कम 50 लोग घायल हो गए, जिनमें अर्द्धसैन्य एवं दिल्ली पुलिस के कई कर्मी भी शामिल हैं. उग्र प्रदर्शनकारियों ने घरों, दुकानों, वाहनों और एक पेट्रोप पंप में आग लगा दी थी.

उत्तर पूर्वी दिल्ली हिंसा में मरने वालों की संख्या बढ़ कर सात हुई
उत्तर पूर्वी दिल्ली में हिंसक घटनाओं में मरने वालों की संख्या बढ़ कर सात हो गई है. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि सोमवार तक हिंसा में जान गंवाने वालों की संख्या चार थी, मंगलवार को यह संख्या बढ़ कर सात हो गई है. सीएए को लेकर सोमवार को हुई हिंसा में जान गंवाने वाले सात लोगों में दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल रतनलाल शामिल हैं.

पूर्वोत्तर दिल्ली के कुछ इलाकों में फिर से हिंसा
दिल्ली के पूर्वोत्तर क्षेत्र के कुछ इलाकों में मंगलवार को फिर से हिंसा हुई, जहां भीड़ ने पथराव किया और बंद दुकानों में तोड़फोड़ की थी. पूर्वोत्तर दिल्ली में तनाव व्याप्त है. एक दिन पहले ही सीएए को लेकर हुई हिंसा में एक हेड कॉन्स्टेबल सहित सात लोगों की जान जा चुकी है. मंगलवार को दिल्ली के मौजपुर मेट्रो स्टेशन के पास कबीर नगर इलाके में पथराव की घटना सामने आई है.