लखनऊ: देश में आज से कई हिस्सों में मॉल्स, रेस्तरां, और धार्मिक स्थलों को खोला जा रहा है. लेकिन यूपी के कुछ धार्मिक स्थलों को अब भी बंद रखा जाएगा. इस बाबत प्रशासन द्वारा निर्देश भी जारी किया जा चुका है. अगर यूपी में धार्मिक स्थलों की बात करें जो बंद रहने वाले हैं तो इनमे पहला स्थान आता है वाराणसी के मंदिरों का. यहां के मंदिरों को फिलहाल के लिए बंद रखा जाएगा. ये मंदिर जिला प्रशासन द्वारा निरीक्षण किए जाने के बाद ही खोले जा सकते हैं. अगर जिला प्रशासन अनुमित दे तभी इन मंदिरों को खोला जाएगा. वाराणसी के मंदिरों को इसलिए बंद किया गया है क्योंकि यहां के मंदिरों में देश के कोने कोने से लोग दर्शन के लिए आते हैं. इस कारण यहां संक्रमण का खतरा और भी ज्यादा बढ़ जाता है.Also Read - Coronavirus cases In India: कोरोना संक्रमण के एक्टिव मामले हुए बेहद कम, 13,058 लोग हुए संक्रमित

वहीं आगरा में आम जनता के लिए सभी धार्मिक स्थलों को बंद रखा गया है. हालांकि इस दौरान मंदिरों और मस्जिदों में या सभी धार्मिक स्थलों पर पुजारी, मौलवी और पादरियों को विशेष प्रार्थना की ही अनुमति होगी. इस दौरान धार्मिक स्थानों की साफ सफाई का भी ध्यान रखा जाएगा. आम लोग किसी भी हालत में इन धार्मिक स्थानों में प्रवेश नहीं कर सकेंगे. यह फैसला आगरा के डीएम द्वारा धर्मगुरुओं के साथ बैठक के बाद लिया गया है. बता दें कि आगरा यूपी के हॉटस्पॉट में से एक है. Also Read - UP: जम्‍मू से छुट्टी पर घर लौटी महिला सैन्‍यकर्मी ने की खुदकुशी, निजी फोटो और वीडियो वायरल होने का जिक्र

वहीं कानपुर जिले में भी धार्मिक स्थलों के खोलने पर पाबंदी लागू रहेगी. यहां धर्मगुरु किसी तरह के रिस्क को लेने के लिए तैयार नहीं है. इसलिए वे धार्मिक स्थानों को खोले जाने के पक्ष में नहीं है. इस बात की जानकारी धर्मगुरुओं ने जिला प्रशासन को दी. इसके बाद शहर में धार्मिक स्थानों को बंद रखने का फैसला लिया गया. बता दें कि 2 दिनों बाद फिर सभी अधिकारियों संग धर्मगुरुओं की बैठक होगी. इसके बाद यह फैसला लिया जाएगा कि आखिर धार्मिक स्थानों को खोलना है या नहीं. Also Read - UP: कोर्ट परिसर में एडवोकेट ने सरेआम दूसरे वकील की गोली मारकर हत्‍या की, सामने आई ये वजह