Republic Day Parade 2021:  नई दिल्ली के राजपथ पर आयोजित होने वाली इस बार की परेड में अयोध्या का राम मंदिर की भव्य रिपब्लिका, प्रतिकृति दिखाई देगी. इस परेड में अयोध्या की धरोहर, भव्य राम मंदिर की प्रतिकृति के साथ ही दीपोत्सव की झलक और पौराणिक ग्रंथ रामायण के विभिन्न हिस्सों की झांकी भी प्रदर्शित की जाएगी. अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी है. बताया गया कि झांकी के अग्रिम हिस्से में महर्षि वाल्मीकि की एक प्रतिमा विराजमान होगी, जिसके पीछे राम मंदिर का प्रारूप मौजूद होगा.Also Read - महात्मा गांधी के पसंदीदा स्तुति गीत ‘अबाइड विद मी’ की धुन को ‘बीटिंग रिट्रीट’ समारोह से हटाया गया

उत्तर प्रदेश की टीम के साथ आए राज्य सरकार के एक अधिकारी ने कहा, ‘अयोध्या हमारा पवित्र स्थान है और राम मंदिर मुद्दे से श्रद्धालुओं का भावनात्मक जुड़ाव रहा है. इसीलिए हमारी झांकी में अयोध्या की प्राचीन धरोहर को दिखाया जाएगा.’ Also Read - Republic Day से पहले आतंकी हमले की खुफिया सूचनाओं के बीच Delhi-NCR में अलर्ट जारी, इन गतिविधियों पर रोक

इसके अलावे यूपी की झांकी में नृत्य करती दो महिलाओं समेत कलाकारों का एक समूह दिखेगा. इसके साथ ही भगवान राम की वेशभूषा में एक व्यक्ति भी झांकी में दिखेगा. Also Read - Republic Day 2022: इतिहास में पहली बार, आधा घंटा देरी से शुरू होगी गणतंत्र दिवस परेड | जानिए वजह

पीले रंग की रेशम की धोती और गले में रूद्राक्ष की माला पहने तथा हाथ में धनुष लिए चंदौली जिल के रहने वाले अजय कुमार ने कहा, ‘मैं बहुत उत्साहित और खुश हूं कि अयोध्या और इसकी धरोहर को झांकी में प्रदर्शित किया जाएगा और मुझे भगवान राम की भूमिका निभाने के लिए चुना गया है.’ यूपी की झांकी में एक ओर मिट्टी के बने दीये जगमगा रहे होंगे, जो अयोध्या के दीपोत्सव के प्रतीक होंगे.

वहीं, झांकी में वॉल पेंटिंग्स के माध्यम से रामायण के कुछ अंश दिखाए जाएंगे. जिसमें भगवान राम द्वारा निषादराज को गले लगाते और शबरी के जूठे बेर खाते, अहल्या का उद्धार करते, हनुमान द्वारा संजीवनी बूटी लाया जाना, जटायु-राम संवाद, लंका नरेश की अशोक वाटिका और अन्य दृश्यों को दिखाया जाएगा.