लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ व आसपास के जिलों में पिछले 24 घंटों से रुक-रुककर बारिश का दौर जारी है. बारिश की वजह से पूर्वांचल की ज्यादातर नदियां उफान पर हैं जिससे हजारों लोग बेघर हो गए हैं. हालात को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार को बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करेंगे. Also Read - COVID19: UP में मास्‍क पहनना अनिवार्य हुआ, नहीं पहना तो होगी कानूनी कार्रवाई

मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता के अनुसार पिछले 48 घंटों से रुक-रुककर बारिश हो रही है. इस सप्ताह के अंत तक अभी मौसम का यही रूख बरकरार रहने की संभावना हैं. पूर्वांचल व मध्य यूपी के कई जिलों में भारी बारिश होने की संभावना है. मौसम विभाग के अनुसार गुरुवार को राजधानी लखनऊ का न्यूनतम तापमान 19 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जबकि अधिकतम तापमान 30 डिग्री सेल्सियस तक दर्ज किए जाने का अनुमान है. लखनऊ के अतिरिक्त गुरूवार को बनारस का न्यूतनम तापमान 19 डिग्री, कानपुर का 18.6 डिग्री, गोरखपुर का 20 डिग्री, इलाहाबाद का 21 डिग्री और झांसी का 22 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. Also Read - यूपी में भी आगे बढ़ सकता है लॉकडाउन, सीएम योगी के साथ मीटिंग के बाद अधिकारी ने दिए संकेत

यूपी में भारी बारिश से अब तक 70 लोगों की मौत, कानपुर में बढ़ा गंगा का जलस्‍तर, खाली कराए गए गांव Also Read - दीया जलाने के दौरान बीजेपी महिला जिला अध्यक्ष ने की थी फायरिंग, FIR दर्ज, अब मांग रहीं माफी

गोंडा, बलरामपुर व बस्‍ती का करेंगे हवाई सर्वेक्षण
इस बीच राज्य सरकार की ओर से बताया कि यूपी के कई जिलों में नदियां उफान पर हैं जिससे हजारों लोग प्रभावित हुए हैं. राहत कार्यों का जायजा लेने के लिए योगी आदित्यनाथ गुरुवार को बाढ़ प्रभावित जिलों गोंडा, बलरामपुर, बस्ती हवाई सर्वेक्षण करेंगे. इस दौरान वह बाढ़ प्रभावितों से भी मुलाकात करेंगे और उन्हें राहत सामग्री वितरित करेंगे. गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले ही योगी ने हवाई सर्वेक्षण कर स्थिति का जायजा लिया था और अधिकारियों को सख्त निर्देश जारी करते हुए कहा था कि राहत सामग्री वितरित करने और बचाव कार्य चलाने में लापरवाही बिलकुल बर्दाश्त नहीं की जाएगी.