नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी सहित पूरे एनसीआर में बुधवार रात से हो रही बारिश के कारण जगह-जगह हुए जलभराव से शहर के कई स्थानों पर यातायात प्रभावित हुआ है. वहीं दिल्‍ली से सटे गाजियाबाद के वसुंधरा में सड़क धंस गई है. इसके चलते दो अपार्टमेंट के 80 फ्लैटों पर खतरा मंडरा रहा है. फिलहाल वहां से लोगों को दूसरी जगह भेजा गया है.

 

बता दें कि राजधानी सहित एनसीआर में तेज बारिश हो रही है. बारिश का सबसे ज्‍यादा असर गाजियाबाद में देखने को मिला. यहां वसुंधरा 4सी के पास वार्ता लोक अपार्टमेंट के सामने सड़क धंस गई है. इसके चलते आसपास के दो अपार्टमेंट के सड़क की जद में आने का खतरा मंडरा रहा है. स्‍थानीय लोगों ने बताया कि पांच साल पहले एक बिल्‍डर ने वार्ता लोक अपार्टमेंट के सामने दूसरा अपार्टमेंट बनाने के लिए करीब 50 फीट गहरा गड्ढा खोदा था. वहां पर पार्किंग बनाने का प्रस्‍ताव था, लेकिन किसी विवाद के चलते प्रोजेक्‍ट पर रोक लग गई.

Live बारिश के बेहाल हुआ दिल्ली-एनसीआर: 12 बजे तक दफ्तर नहीं पहुंचे लोग, घंटों तक लगा जाम

पार्किंग के लिए खोदा गया गहरा गड्ढा बना कारण
बताया जा रहा है कि बुधवार देर रात से हो रही बारिश के कारण गुरुवार सुबह सड़क के नीचे की मिट्टी खिसककर अपार्टमेंट के लिए खोदे गए गड्ढे में खिसक गई, जिसकी वजह से सड़क करीब 50 फीट नीचे धंस गई है. सड़क धंसने की सूचना मिलने पर एनडीआरएफ, सिविल डिफेंस, पुलिस फायर विभाग व प्रशासन की टीम मौके पर राहत कार्य में जुटीं हैं. साथ ही वहां से लोगों को दूसरी तरफ भेजा रहा है.

यूपी में झमाझम बारिश, मैनपुरी, सैफाई व आगरा को जोड़ने वाले अंडर ब्रिज में भरा पानी, फंसे लोग

ग्रेटर नोएडा में तीन मंजिला इमारत गिरी
ग्रेटर नोएडा में मुबारकपुर गांव में तीन मंजिला बिल्डिंग गिर गई है. हालांकि इसमें किसी प्रकार की जनहानि नहीं हुई है. हादसे से पहले ही सभी को मकान से बाहर निकाल लिया गया. बताया गया है कि ओमपाल अपने परिवार के साथ मकान में रहते हैं. हादसे की सूचना पर आसपास के लोगों ने ओमपाल के परिवार को सकुशल बाहर निकाल लिया, उसके चंद मिनटों बाद ही तीन मंजिला इमारत पूरी तरह ढह गई. बता दें कि बीते दिनों ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद में बिल्डिंग गिरने के मामले सामने आ चुके हैं. ग्रेटर नोएडा में 9 और गाजियाबाद में एक व्यक्ति की मौत हुई थी.