Rohilkhand Opinion Poll 2022: यूपी में 10 फरवरी से 7 मार्च के बीच 7 चरणों में होने वाले विधानसभा चुनाव (UP Chunav 2022) से पहले जनता का मूड भांपने के लिए Zee News ने DesignBoxed के साथ ओपिनियन पोल किया. पश्चिमी यूपी, पूर्वांचल, मध्य यूपी, बुंदेलखंड में क्या हालात हैं, जनता क्या सोच रही है, ये Zee News के सर्वे में बताया जा चुका है. आज हम रुहेलखंड (Rohilkhand Main Janta Ka Mood) की जनता का मूड बता रहे हैं. इस ओपिनियन पोल में बीजेपी को सीटों का नुकसान तो होता दिख रहा है, लेकिन ऐसा नुकसान नहीं हो रहा है कि उसे भारी पड़ जाये. रूहेलखंड में कौन सी सीट पर किस पार्टी का पलड़ा भारी रहेगा. किस पार्टी को हार मिलेगी, ये हमने जानने की कोशिश की.Also Read - IPL 2022 PBKS vs DC Dream11 Prediction Video: क्या दिल्ली कैपिटल्स प्ले ऑफ के लिए क्वालीफाई करेंगी? वीडियो देखो

यूपी के रुहेलखंड के 4 जिलों में 25 सीटें हैं. इन 25 सीटों पर ओपिनियन पोल किया गया. ये 25 सीटें चार जिले में हैं. रूहेलखंड रीजन में बदायूं, शाहजहांपुर, बरेली, पीलीभीत जिले आते हैं. Also Read - एसबीआई ने उधार दर में की 0.1 फीसदी की बढ़ोतरी, बढ़ जाएगी आपके लोन की ईएमआई

रुहेलखंड में किसे कितनी सीटें मिल सकती हैं
बीजेपी को रूहेलखंड में 19-21 सीटें मिल सकती हैं. समाजवादी पार्टी को तीन से सात सीटें मिल सकती हैं. जबकि चौंकाने वाली बात ये है कि बसपा और कांग्रेस के खाते में कोई भी सीट जाते नहीं दिख रही है. बता दें कि 2017 में बीजेपी को रूहेलखंड में 23 सीटें मिली थीं. समाजवादी पार्टी को यहां से सिर्फ 2 सीटें हासिल हुई थीं, जबकि कांग्रेस और बहुजन समाजवादी पार्टी को कोई भी सीट नहीं मिली थी. रूहेलखंड के इन चार जिलों की 25 सीटों में से कौन सी सीट किसे मिल सकती है, जानिये Also Read - 35 किलोमीटर का माइलेज, कीमत 8 लाख से भी कम, खूब बचत कराएंगी ये 3 CNG कार

बदायूं में किस पार्टी को मिल सकती है कितनी सीट?
बिसौली- सपा
सहसवान- सपा
बिल्सी- बीजेपी
बदायूं- बीजेपी
शेखूपुर- बीजेपी
दातागंज- बीजेपी

शाहजहांपुर में किस पार्टी को मिल सकती है कितनी सीट?
कटरा- बीजेपी
जलालाबाद- सपा
तिलहर- बीजेपी
पुवायां- बीजेपी
शाहजहांपुर- बीजेपी
ददरौल- बीजेपी

बरेली में किस पार्टी को मिल सकती है कितनी सीट?
बहेड़ी- सपा
मीरगंज- बीजेपी
भोजीपुरा- सपा
नवाबगंज- बीजेपी
फरीदपुर- बीजेपी
बिथरी चैनपुर- बीजेपी
बरेली- बीजेपी
बरेली कैंट- बीजेपी
आंवला- बीजेपी

पीलीभीत में किस पार्टी को मिल सकती है कितनी सीट?
पीलीभीत- बीजेपी
बरखेड़ा- बीजेपी
पूरनपुर- बीजेपी
बीसलपुर- बीजेपी

इस मामले में योगी आदित्यनाथ अखिलेश से आगे
जी न्यूज़ के ओपिनियन पोल में ये भी सवाल पूछा गया कि यूपी में सीएम पद पर किसे देखना चाहते हैं. इस पर 47 प्रतिशत लोगों ने योगी आदित्यनाथ को अपनी पहली पसंद बताया. अखिलेश यादव को 37 प्रतिशत को सीएम के तौर पर देखना चाहते हैं. मायावती को 9 प्रतिशत, कांग्रेस पार्टी के सीएम को तीन प्रतिशत लोग देखना चाहते हैं.

बता दें कि ओपिनियन पोल के मुताबिक यूपी में एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी (BJP) की सरकार बनती दिख रही है. हालांकि 2017 की तुलना में बीजेपी को सीटों का नुकसान हो सकता है. वहीं, समाजवादी पार्टी का दूसरी सबसे पार्टी बनकर उभरने का अनुमान लगाया जा रहा है. सपा को पिछले साल के मुकाबले सीटों का फायदा होता दिख रहा है.

यूपी में किसे कितनी सीटें
सर्वे के अनुसार, भारतीय जनता पार्टी (BJP)+ 245 से 267 , अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) की समाजवादी पार्टी (Samajawadi Party) को 125 से 148 , मायावती (Mayawati) की बसपा (BSP) को 5-9 सीटें, कांग्रेस (Congress) को 2-7 और अन्य को 2-6 सीटें मिलती दिख रही हैं. मालूम हो कि 403 सदस्यीय यूपी विभानसभा में बहुमत का आंकड़ा 202 है.

मालूम हो कि यूपी में एक तरफ सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (BJP) है जो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) के नेतृत्व में लगातार दूसरी बार सत्ता पर काबिज होने के लिए हर संभव कोशिश कर रही है. वहीं, दूसरी तरफ अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के नेतृत्व में समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) पांच साल बाद फिर सत्ता हथियाने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा रही है. तीसरी तरफ मायावती के नेतृत्व वाली बहुजन समाज पार्टी है जो 10 साल से सत्ता से बाहर है और एक बार फिर यूपी की बागडोर अपने हाथ में लेना चाहती है. प्रियंका गांधी वाड्रा के नेतृ्त्व में कांग्रेस भी इस बार उत्तर प्रदेश में जोर (UP elections 2022) अजमाइश कर रही है, ताकि सबसे बड़े प्रदेश में उसका सत्ता से अज्ञातवास खत्म हो. इस बार अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी और असदुद्दीन ओवैसी की AIMIM पार्टियां भी यूपी के चुनावों में अपना भाग्य आजमा रही हैं.