लखनऊ: शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे जव्वाद नकवी ने आरएसएस की राजनीति से भाजपा को बचने की चेतावनी दी. शिया धर्मगुरु का कहना है कि इसी के चलते मुसलमान भाजपा से दूर हो रहे हैं. साथ ही उन्होंने सपा नेता आजम खां पर भी तंज कसते हुए कहा कि जिस प्रकार आजम की वजह से शिया समाजवादी पार्टी से दूर हो गए उसी प्रकार राष्ट्रीय मुस्लिम मंच के कुछ पदाधिकारियों के चलते मुसलमानों का बीजेपी से जुड़ाव नहीं हो पा रहा. Also Read - शिवराज सरकार ने स्वीकारा- हाँ, कांग्रेस सरकार ने माफ़ किया था 27 लाख किसानों का कर्ज

मुस्लिम राष्ट्रीय मंच कुछ बेईमान पदाधिकारी
मौलाना कल्बे जव्वाद नकवी ने तथाकथित नेताओं के भड़काऊ बयानों की निंदा करते हुए कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की राजनीति के कारण मुसलमान भाजपा से दूर हो रहे हैं. भाजपा ऐसे लोगों को चेताए जो उन्हें फायदा पहुंचाने के बजाय नुकसान कर रहे हैं. बीजेपी को चाहिए कि वो ऐसे लोगों को पार्टी में शामिल करे, जिनका कौम व समाज में सम्मान हो. मौलाना जव्वाद ने जुमे की नमाज के के दौरान शुक्रवार को ये बातें कहीं. Also Read - फिल्म सिटी पर अखिलेश का तंज, बोले- सपा काल की घोषणा का श्रेय लेने को तैयार भाजपा

उन्होंने कहा, सुना जाता है कि आरएसएस ने राष्ट्रीय मुस्लिम मंच नामक कोई मोर्चा बनाया है, जिसके जिम्मेदारों ने अपने साथ कुछ बेईमानों को शामिल कर लिया है, जो मुसलमानों को करीब करने के बजाय दूर कर रहे हैं. इससे मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के जिम्मेदारों और शामिल किए गए बेईमानों को तो निजी लाभ पहुंच रहा है, लेकिन भाजपा का नुकसान हो रहा है. उन्होंने कहा कि इसी राजनीति की वजह से मुसलमान भाजपा से दूर हैं, जैसे आजम खां की वजह से शिया समाजवादी पार्टी से दूर हो गए थे वैसे ही मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के कारण शिया और सुन्नी दोनों भाजपा से दूर हो रहे हैं. Also Read - केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से कहा- डिजिटल मीडिया ज़हर है, इस पर नियंत्रण हो

भड़काऊ बयानों पर रोक लगनी चाहिए
मौलाना जव्वाद ने कहा कि कुछ धर्म के व्यापारी ऊंचे ओहदा पाने के लिए ऐसे भड़काऊ बयान दे रहे हैं. भाजपा ऐसे लोगों को चेताए जो उन्हें फायदा पहुंचाने के बजाय नुकसान कर रहे हैं और ऐसों को पार्टी में शामिल किया जाए, जिनका कौम और समाज में सम्मान हो और वह उनके लिए फायदेमंद साबित हों. उनका कहना था कि मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के पदाधिकारी ही अपने हित साधने के लिए मुसलमानों को बीजेपी दूर कर रहे हैं. भाजपा को समय रहते इस स्थिति को समझना होगा व इसको काबू करना होगा.