लखनऊ: उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती पर विधानसभा के सामने आयोजित रन फॉर यूनिटी कार्यक्रम को हरी झंडी दिखाई और लोगों को राष्ट्र की एकता की शपथ दिलाई.

 

इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि सरदार पटेल आज ही नहीं सदियों-सदियों तक याद किए जाएंगे. सरदार ने छोटी-छोटी रियासतों में बंटे भारत को एकता के सूत्र में पिरोया, जिससे भारत का स्वरूप बना. देश में कई रियासतें थीं, जो भारत में शामिल होने को तैयार नहीं थीं, लेकिन पटेल के सामने उनकी नहीं चली. योगी ने कहा कि हम आंबेडकर को संविधान का शिल्पी मानते हैं तो सरकार पटेल को भारत गणराज्य का शिल्पी कहा जाना चाहिए. भारत के एकीकरण के लिए उन्हें सदियों तक याद किया जाएगा. उन्होंने सभी को शपथ भी दिलाई.

Statue of Unity के लोकार्पण में यूपी से गए हजारों लोग, ‘एकता ट्रेन यात्रा’ की देखिए झलक

इस मार्च-पास्ट व रन फॉर यूनिटी का कार्यक्रम
अवसर पर विधानसभा के सामने मार्च-पास्ट व रन फॉर यूनिटी का कार्यक्रम रखा गया. मार्च-पास्ट में करीब एक दर्जन स्कूलों के बच्चे, पुलिस, पीएसी और केंद्रीय बल की टुकड़ियां मौजूद रहीं. इस कार्यक्रम में मुख्यसचिव, प्रमुख सचिव, डीजीपी ओपी सिंह, मेयर संयुक्ता भाटिया सहित तमाम नेतागण और प्रशासनिक अधिकारी मौजूद रहे. इससे पहले राज्यपाल राम नाईक व मुख्यमंत्री योगी ने जीपीओ पार्क स्थित सरदार पटेल की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी.