संभल: यूपी के संभल में बंदरों के आतंक ने लोगों का जीना मुश्किल कर दिया है. यहां बंदर 15 दिनों में 225 लोगों को निशाना बना चुके हैं. बंदरों के हमले में घायल हुए लोग बड़ी संख्या में अस्पताल इलाज कराने पहुंच रहे हैं. लोगों में बंदरों के कारण दहशत है. डॉक्टर्स का कहना है कि अत्यधिक गर्मी के कारण ऐसा हो रहा है. गर्मी से बंदर हिंसक व्यवहार कर रहे हैं. लोगों पर हमला कर रहे हैं. Also Read - महाराष्ट्र और राजस्थान के बाद अब यूपी में ईंट से पीट कर पुजारी की निर्मम हत्या, घटना स्थल की फारेंसिक जांज शुरू

Also Read - अनाज भंडारण के लिए राज्य में 5 हजार गोदाम बनाएगी योगी सरकार

सीतापुर के आदमखोर कुत्तों ने 4 और मासूमो को बनाया शिकार, 2 बच्चों की मौत Also Read - UP: अदालत ने दिया 12 पुलिसकर्मियों के खिलाफ हत्‍या का केस दर्ज करने का आदेश

अब संभल में बंदरों का आतंक

आमतौर पर बंदर अब शहरी इलाकों के आदि हो गए हैं. दशकों से बंदर शहरों में डेरा जमाए हुए हैं. लोग भी बंदरों से इतना खौफ में नहीं रहते. ये उसी तरह छतों पेड़ों पर रहते हैं, जैसे सडकों पर कुत्ते, लेकिन शहर में लोगों के बीच रहने वाले ये जानवर हिंसक हो रहे हैं. यूपी के सीतापुर जिले में कुत्तों के आतंक के बाद संभल में अब बंदरों का आतंक छाया हुआ है. बंदरों ने यहां पिछले 15 दिनों में 225 लोगों पर हमला किया. इनमें बच्चे व महिलाएं भी शामिल हैं. बड़ी संख्या में लोग अस्पताल में इलाज करने पहुंच रहे हैं.

कैसे रुकेगा आदमखोर कुत्तों का आतंक ? कुत्तों के आगे बेबस प्रशासन, ग्रामीणों ने एक कुत्ते को पीट- पीट कर मार डाला

लगातार तापमान बढ़ने के कारण हिंसक हो रहे जानवर

संभल जिला अस्पताल के डॉक्टर्स का कहना है कि दवा स्टोर कर रखी गई है. लगातार पीड़ित आ रहे हैं. अगर दवा कम पड़ती है तो और मंगवाई जाएगी. बंदर अचानक हिंसक क्यों हो गए, इस सवाल पर डॉक्टर्स का कहना है कि पूरी संभावना है कि अत्यधिक गर्मी बंदरों को परेशान कर रही है. इसीलिए बंदर हिंसक हो रहे हैं. उन्होंने कहा कि यह दूसरे जानवरों के साथ हो रहा है. तापमान लगातार बढ़ रहा है. यह इंसानों के साथ ही जानवरों पर भी असर डालेगा ही. फिल्हान इनके हमलों से घायल हो रहे लोगों के इलाज के इंतज़ाम किए जा रहे हैं.