गोरखपुर: समाजवादी पार्टी (सपा) ने उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार पर गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की खरीद फरोख्त में भ्रष्टाचार का सनसनीखेज आरोप लगाया है. सपा के जिलाध्यक्ष प्रह्लाद यादव ने सीएम पर सीधा आरोप लगाते हुए कहा कि एक तरफ तो मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भ्रष्टाचार को बर्दाश्त नहीं करने का दावा करते हैं, लेकिन उनकी अपनी ही कर्मभूमि गोरखपुर में स्थित बाबा राघव दास मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन खरीद में हर महीने पांच लाख रुपये का घोटाला हो रहा है.

UP: सीएम योगी का निर्देश इंसेफेलाइटिस प्रभावित जिलों में विशेष अभियान चलाया जाए, कोताही बर्दाश्त नहीं

अगस्त माह में बढ़ जाती है ऑक्सीजन की खपत
उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों के कार्यकाल में गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में 16 रुपये 50 पैसे प्रति लीटर के हिसाब से लिक्विड ऑक्सीजन खरीदी जाती थी. लेकिन पिछले साल 10 अगस्त के बाद से सरकार ने राजस्थान की एक कम्पनी से 19 रुपये 39 पैसे के हिसाब से गैस खरीदनी शुरू कर दी. इस तरह हर माह पांच लाख रुपये का घोटाला हो रहा है. मेडिकल कॉलेज में हर महीने 1.20 लाख लीटर से लेकर 1.50 लाख लीटर ऑक्सीजन की खपत होती है. अगस्त माह में संक्रामक रोग ज्यादा फैलने की वजह से ऑक्सीजन की खपत और भी बढ़ जाती है.

गोरखपुर के BRD मेडिकल कॉलेज में इस महीने हुई 296 बच्चों की मौत

गौरतलब  है कि गोरखपुर मेडिकल कॉलेज पिछले साल 10/11 अगस्त को कथित रूप से ऑक्सीजन की कमी की वजह से कम से कम 30 बच्चों की दर्दनाक मौत के बाद सुर्खियों में आया था. इस मामले में ऑक्सीजन आपूर्तिकर्ता कम्पनी के संचालक समेत नौ अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया था. इस घटना के बाद सरकार की कड़ी आलोचना हुई थी. मीडिया द्वारा यह पूछे जाने पर कि सपा जिलाध्यक्ष किस आधार पर यह आरोप लगा रहे हैं ? इस सवाल पर उन्होंने कहा कि उनके पास अपने सूत्र हैं. ‘ अगर सरकार इस बारे में कुछ कहना चाहती है तो उसे हमारे आरोपों को झूठ साबित करने वाले सबूत देने चाहिए.’ उनका कहना था कि सरकार की चुप्पी खुद ही भ्रष्टाचार को बयां कर रही है.

इन्सेफ्लाइटिस से होने वाली मौत के आंकड़े सार्वजानिक करने पर योगी सरकार की रोक
उन्होंने कहा कि योगी सरकार ने गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में हर दिन इन्सेफ्लाइटिस से होने वाली मौत का आंकड़ा सार्वजनिक करने पर अब रोक लगा दी है. वहीं पिछली अखिलेश यादव सरकार ने मेडिकल कॉलेज को रोजाना भर्ती किये जाने वाले मरीजों, मरने वाले रोगियों इत्यादि का आंकड़ा रोज अपराह्न चार बजे तक जारी करने के निर्देश दिये थे. हालांकि भाजपा की महानगर इकाई के अध्यक्ष राहुल श्रीवास्तव ने सपा जिलाध्यक्ष के आरोपों को बेबुनियाद बताते हुए कहा है कि ऑक्सीजन के दामों में जीएसटी की वजह से बढ़ोत्तरी हुई है. इसमें घोटाले जैसी कोई बात नहीं है. (इनपुट एजेंसी)