लखनऊ: उत्तर प्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामले के मद्देनजर राज्‍य में आगामी 21 सितंबर से स्कूलों के आंशिक रूप से फिर से खुलने की संभावना ‘बहुत कम’ है. बता दें कि केंद्र ने अनलॉक 4.0 दिशा-निर्देशों में शिक्षकों से मार्गदर्शन लेने के लिए स्वैच्छिक आधार पर कक्षा 9 से 12 के छात्रों के लिए स्कूलों के आंशिक रूप से फिर से खोलने के लिए एसओपी (मानक संचालन प्रक्रिया) जारी किए थे. अब कोरोना के बढ़ते मामलों के लेकर यूपी के उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने स्‍कूलों के खुलने को लेकर कहा- ‘बहुत कम’ संभावना है. हालांकि, सूत्रों ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस पर अंतिम फैसला लेंगे कि इस महीने स्कूल फिर से खुलेंगे या नहीं. Also Read - Alert: कोविड-19 रोगियों में किडनी खराब होने का जोखिम बढ़ा

उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कहा कि राज्य में कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों के मद्देनजर 21 सितंबर से स्कूलों के आंशिक रूप से फिर से खुलने की संभावना ‘बहुत कम’ है. शर्मा ने कहा, “बहुत कम संभावना है कि स्कूलों को आंशिक रूप से कार्य करने की अनुमति दी जा सकती है. इस महीने आंशिक रूप से या कम से कम स्कूलों को चलाना तो संभव नहीं है. छात्रों की सुरक्षा एक बड़ा मुद्दा है और इससे समझौता नहीं किया जा सकता है.” Also Read - मां ने डांटा तो 11 साल के बच्चे ने छोड़ा घर, साइकिल लेकर हरिद्वार को निकला, फिर...

केंद्र ने अनलॉक 4.0 दिशानिदेशरें में शिक्षकों से मार्गदर्शन लेने के लिए स्वैच्छिक आधार पर कक्षा 9 से 12 के छात्रों के लिए स्कूलों के आंशिक रूप से फिर से खोलने के लिए एसओपी (मानक संचालन प्रक्रिया) जारी किए थे.

हालांकि सूत्रों ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस पर अंतिम फैसला लेंगे कि इस महीने स्कूल फिर से खुलेंगे या नहीं.
हालांकि, उत्तर प्रदेश सरकार के पास स्कूलों को आंशिक रूप से फिर से खोलने की अनुमति देने की कोई योजना नहीं है.
माता-पिता अपने बच्चों को महामारी के दौरान स्कूलों में भेजने के विचार का कड़ा विरोध कर रहे हैं.

बता दें कि स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के मुताबिक, आज बुधवार यानि 16 सिंतबर को उत्तर प्रदेश में COVID-19 के 6,337 नए मामले सामने आए हैं. 6,476 मरीज रिकवर हुए और 86 मौतें हुईं. आज तक राज्‍य में कुल मामले 3,30,265 हैं, जिनमें 4,690 सक्रिय एक्‍ट‍िव केस, 2,58,573 मरीज ठीक हुए और अब तक 4,690 लोगों की मौत हो चुकी है.