लखनऊ: पूर्वांचल के कुख्‍यात डॉन प्रेम प्रकाश सिंह उर्फ मुन्‍ना बजरंगी की पत्‍नी सीमा सिंह ने 29 जून को प्रेस कांफ्रेंस करके पति की (मुन्‍ना बजरंगी) फर्जी एनकाउंटर की आशंका जताई थी. साथ ही उन्‍होंने यूपी के सीएम योगी आदित्‍यनाथ से पति की सुरक्षा की गुहार लगाई थी. सीमा ने कहा था कि उसके पति मुन्‍ना बजरंगी पर झांसी जेल में कई बार जानलेवा हमला हुआ है, ऐसे में उसकी जान को खतरा है. Also Read - कानपुर में 8 पुलिस‍कर्मियों की हत्‍याओं में फरार कुख्‍यात अपराधी विकास दुबे का घर JCB से गिराया

Also Read - मेथी की जगह 'भांग की सब्जी' का परिवार ने किया सेवन, हो गएं सब बेहोश, अस्पताल में चल रहा इलाज

  Also Read - हरियाणा, यूपी में टिड्डियों के हमले को रोकने के लिए राजस्थान से भेजी गईं टीमें

29 जून को पत्रकार वार्ता के दौरान मुन्‍ना बजरंगी की पत्‍नी सीमा सिंह ने कहा था कि उनके पति को कुछ प्रभावशाली लोगों ने साजिश के तहत कई बार जान से मारने का प्रयास किया है. यह प्रयास पहले कई बार भी किए गए थे. उनके अनुसार उनके द्वारा इस मामले की शिकायत भी कई बार जिम्‍मेदार अधिकारियों और कोर्ट में भी शिकायत की गई. लेकिन फिर भी उनकी जान को खतरा बना हुआ है. साथ ही उन्‍होंने आशंका जताई कि कुछ भ्रष्ट तंत्र के व्यक्ति उनके पति को व्यक्तिगत लाभ के लिए फर्जी एनकाउंटर में मारने की फिराक में हैं.

पूर्वांचल के कुख्‍यात डॉन मुन्‍ना बजरंगी की बागपत जेल में गोली मारकर हत्‍या

यूपी एसटीएफ व पुलिस पर लगाए थे आरोप

इस दौरान सीमा सिंह ने यूपी एसटीएफ और पुलिस के अधिकारियों पर मुन्‍ना बजरंगी को फर्जी एनकाउंटर में मारने की साजिश बनाने का भी आरोप लगाया था. उन्‍होंने कहा था कि जेल में उनके पति के भोजन में जहर देकर मारने की भी कोशिश की गई थी. सीमा ने बताया कि उनके भाई की हत्‍या भी 2016 में की गई थी. लेकिन इस मामले में भी पुलिस ने हीलाहवाली की और केस बंद कर दिया था.