मुजफ्फरनगर (यूपी): लॉकडाउन में कई तरह की छूट दी गई हैं, लेकिन महिला को पता चला कि लॉकडाउन बढ़ गया है तो उसने सुसाइड करने की कोशिश कर डाली. महिला काफी टाइम से मायके जाना चाह रही थी, लेकिन वह लॉकडाउन के कारण ससुराल में ही थी. इससे परेशान होकर महिला ने ज़हर खा लिया. Also Read - Lockdown Extension in Pune: पुणे में भी 13 से 23 जुलाई तक लॉकडाउन, जानें क्या खुलेगा क्या रहेगा बंद

मामला उत्तर प्रदेश के शामली जिले का है. एक महिला लॉकडाउन के कारण ससुराल से मायके नहीं जा सकी तो कथित तौर पर उसने आत्महत्या का प्रयास किया, जिसके बाद गंभीर हालत में उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पुलिस ने यह जानकारी दी. Also Read - गुजरात में कोरोना से इतना परेशान हुआ हीरा कारोबारी, ट्रेन के सामने कूदकर की सुसाइड

राकेश नामक व्यक्ति की पत्नी बबिता मार्च में ही अपने मायके जाना चाहती थी लेकिन लॉकडाउन लागू होने के कारण नहीं जा सकी. राकेश और बबिता की शादी को पांच साल हो चुके हैं. पुलिस ने बताया कि शामली जिले के अहमदनगर गांव में स्थित अपने ससुराल से बाहर नहीं निकल पाने से व्यथित होकर महिला ने शनिवार को जहर खाकर आत्महत्या करने का प्रयास किया. Also Read - यूपी में लॉकडाउन जैसी पाबंदियां आज रात से होंगी लागू, क्‍या रहेगा बंद, क्‍या रहेगा खुला

पुलिस के अनुसार महिला को जब यह पता चला कि लॉकडाउन अगले महीने तक के लिए बढ़ा दिया गया है तब उसने यह कदम उठाया. महिला के ससुराल वालों के मुताबिक वह मायके जाने के लिए उन पर दबाव बना रही थी लेकिन लॉकडाउन के कारण नहीं जा पाई.