लखनऊ: समाजवादी पार्टी की ओर से आयोजित जयप्रकाश नारायण की जयंती कार्यक्रम में लखनऊ पहुंचे भारतीय जनता पार्टी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा और पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा. शत्रुघ्न सिन्हा ने राफेल डील पर कहा कि केंद्र सरकार को जवाब देना होगा, तो वहीं, यशवंत सिन्हा ने कहा कि मौजूदा वक्त में देश के हालात इमरजेंसी से भी बदतर हैं.Also Read - Lucknow Viral Video: कैब ड्राइवर को थप्पड़ मारने वाली लड़की का नया वीडियो आया सामने, पुलिस ने दर्ज किया FIR

Also Read - UP: अमित शाह और CM योगी ने UPSIFS का शिलान्‍यास किया, विंध्याचल कॉरिडोर का भी करेंगे भूमिपूजन

समाजवादी पार्टी मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम में शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि ‘सत्ता सेवा का माध्यम है, मेवा का नही, अगर सच बोलना बगावत है तो मैं बागी हूं. सिन्हा ने कहा कि जुमलेबाजी और खोखला वायदा नहीं चलेगा. नोटबंदी का फैसला पार्टी का नहीं था, क्या इस बारे में पार्टी के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी से पूछा गया था? क्या इस बारे में एमएम जोशी, अरूण शोरी, और यशवंत सिन्हा को कुछ भी मालूम था ? अचानक नोटबंदी लागू कर दी गयी और गरीबों के बारे में कुछ नहीं सोचा गया, नोटबंदी के बाद जीएसटी लागू कर व्यापारियों की कमर तोड़ दी गई. जीएसटी, पूजा के सामान, प्रसाद और लंगर पर भी लागू कर दी गयी लेकिन पेट्रोल डीजल को इससे दूर रखा गया. Also Read - Private Industrial Park in UP: उत्तर प्रदेश के कई जिलों में बनेंगे प्राइवेट इंडस्ट्रियल पार्क, बढ़ेगा निर्यात कारोबार

बीजेपी के बागी शत्रुघ्न सिन्हा और यशवंत सिन्हा को केजरीवाल ने दिया बड़ा ऑफर

राफेल डील के बारे में जवाब चाहता है देश

सांसद सिन्हा ने कहा कि देश राफेल डील के बारे में जवाब चाहता है. जनता राफेल डील के बारे में जानना चाहती है. आखिर पुरानी कंपनी एचएल को क्यों हटाया गया और एक ऐसी कंपनी को यह सौदा क्यों दिया गया जो कि इसके बारे में जानती भी नहीं है. उन्होंने कहा कि कुछ दिन पहले यशवंत सिन्हा से पूछा गया था कि अटल बिहारी वाजपेयी सरकार और वर्तमान की नरेंद्र मोदी सरकार के बीच तुलना करने को कहा गया था तो उन्होंने कहा था कि अटल सरकार में लोकतंत्र था और आज तानाशाही है. आज मैं कहता हूं कि वन मैन शो है और दो आदमियों की सेना है. इस समय तो न ईमानदारी है और न ही पारदर्शिता.

हार्दिक पटेल के साथ आए भाजपा से नाराज यशवंत और शत्रुघ्‍न सिन्‍हा, कहा राष्‍ट्रीय स्‍तर तक ले जाएंगे आंदोलन

सपा कार्यक्रम में लखनऊ पहुंचे शत्रुघ्न सिन्हा

शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि जय प्रकाश नारायण को अपने श्रद्धा सुमन अर्पित करने लखनऊ आया हूं और उन्हीं से प्रभावित होकर राजनीति शुरू की है. अखिलेश यादव देश की राजनीति का उभरता हुआ सितारा है और आज उत्तर प्रदेश के सबसे मजबूत और मशहूर नेता हैं. शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि अखिलेश यादव के साथ मिलकर भविष्य की राजनीति पर चर्चा भी करेंगे. उन्होंने कहा कि जयप्रकाश नारायण को मानने वालों में हम सब हैं, मैं हर दल का प्रिय हूं. सभी लोग मुझे मानते हैं. अखिलेश मुझे मौका दें या मैं अखिलेश को मौका दूं बात एक ही है. हम सब एक परिवार की तरह है.

यशवंत सिन्हा और शत्रुघ्न सिन्हा को दिल्ली से उम्मीदवार बनाना चाहती है AAP!

यशवंत बोले- देश में लोकतत्र खतरे में

सपा प्रमुख अखिलेश यादव के साथ मंच पर मौजूद यशवंत सिन्हा ने कहा कि देश में मौजूदा हालात इमरजेंसी से भी बदतर हैं, सभी को एकजुट होकर लड़ना पड़ेगा. शत्रुघ्न और मैं देश भर में घूम कर लोगों को जागरूक कर रहे हैं, देश में लोकतंत्र खतरे में है अगर हम चेते नहीं तो देश का बहुत नुकसान होगा. देश में लोकतांत्रिक संस्थाएं खतरे में हैं, अगर हम एकजुट होकर लड़ें तो जीत हमारी होगी.