लखनऊ: पहले गोरखपुर-फूलपुर और अब कैराना-नूरपुर उपचुनाव में भाजपा को मिली हार पर उसके ही विधायक सवाल उठाने लगे हैं. हरदोई से भाजपा विधायक श्याम प्रकाश ने फेसबुक पर बकायदा पोस्ट करके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधा है. उन्‍होंने कविता के रूप में सरकार की लाचारी और अधिकारियों के भ्रष्‍टाचार की बात कही है. साथ ही उन्‍होंने पार्टी संगठन और प्रदेश अध्‍यक्ष की कार्यप्रणाली पर भी पोस्‍ट के जरिए सवाल उठाया है.

यूपी के हरदोई जिले से भाजपा विधायक श्यामप्रकाश ने नूरपुर विधानसभा और कैराना लोकसभा सीट पर भाजपा प्रत्याशी की हार को लेकर फेसबुक पर पोस्‍ट किया है. पोस्‍ट करने के सवाल पर उन्‍होंने बताया कि मौजूदा समय में प्रदेश के किसान सरकार की कार्यप्रणाली से खुश नहीं है. क्‍योंकि प्रशासनिक अफसर इतने भ्रष्‍ट हो गए हैं कि वो सरकार की लोकप्रियता को नुकसान पहुंचा रहे हैं. इसके बावजूद किसी की सुनवाई नहीं हो रही है. पहले गोरखपुर-फूलपुर और अब कैराना और नूरपुर में पार्टी की हार के पीछे कई कारण हैं. उन्‍होंने कहा कि वे सरकार से नाराज नहीं हैं. लेकिन पिछली सरकार की तुलना में इस सरकार में भ्रष्‍टाचार और बढ़ गया है. हालात यह है कि प्रशासनिक अफसर न तो आम जनता की सुन रहे हैं और न तो विधायक और सांसदों की.

bjp mla post n

विश्लेषणः 2019 फतह के लिए बीजेपी को समझना होगा जनता का मूड, सिर्फ वादे से नहीं चलेगा काम

फेसबुक पोस्‍ट पर यह लिखा
फेसबुक पोस्‍ट में श्यामप्रकाश ने कहा है कि मुख्यमंत्री पर संगठन का दबाव है और इसके चलते वह सहजता से कार्य नहीं कर पा रहे हैं. पोस्‍ट उन्‍होंने एक कविता की 10 पंक्तियों के रूप में की है. पोस्ट करते हुए विधायक ने लिखा है कि पहले गोरखपुर, फिर फूलपुर, अब कैराना, नूरपुर में भाजपा की हार का उन्‍हें दुख है. विधायक श्यामप्रकाश ने जो कविता पोस्ट की है उसका तात्पर्य यह है कि मोदी के नाम पर राज तो मिल गया, लेकिन जनता के मन का काज फिर भी न कर सके. संघ और संघटन के हाथ में लगाम होने के चलते मुख्यमंत्री के भी असहाय होने की बात कही गई है. अधिकारी और अध्यक्ष को भ्रष्ट बताते हुए कहा गया है कि उतर गई पटरी से रेल, फेल हुआ अधिकारी राज. फिर दो पंक्तियों के माध्यम से विधायक ने कहा है कि समझदार को इशारा काफी है और आगे अधिकार मतदाताओं को है.