लखनऊ / नोएडा: सिंगापुर की एक मीडिया कंपनी ने उत्तर प्रदेश में प्रस्तावित फिल्म सिटी में फिल्म अकादमी स्थापित करने के लिए एक करोड़ डॉलर (लगभग 73.51 करोड़ रुपए) के शुरुआती निवेश की पेशकश की है. एक आधिकारिक बयान में इसकी जानकारी दी गई.Also Read - Investment in Uttar Pradesh: सैमसंग, पेटीएम, टीसीएस, माइक्रोसाफ्ट, अडानी ग्रुप तथा हल्दीराम ने नोएडा में किया निवेश, मिलेगा रोजगार

बयान में कहा गया है कि यह प्रस्ताव नई फिल्म सिटी परियोजना को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ फिल्म निर्माताओं और कलाकारों की मंगलवार को हुई एक बैठक के दौरान सामने आया. यह फिल्म सिटी नोएडा के पास यमुना एक्सप्रेसवे पर 1,000 एकड़ के क्षेत्र में प्रस्तावित है. Also Read - Investment in UP: यूपी के पांच जिलों में 32 NRI ने 1045 करोड़ रुपये का निवेश करने की इच्छा जताई

मुख्यमंत्री कार्यालय ने बयान में कहा, ”राज्य सरकार की त्वरित कार्रवाई को तुरंत सकारात्मक प्रतिक्रिया मिली (फिल्म बिरादरी से). कला निर्देशक नितिन देसाई ने मुंबई में स्थापित सेट की तर्ज पर एक पूरी फिल्म सिटी स्थापित करने की पेशकश की. उनका मत था कि मुंबई फिल्म उद्योग में लगभग 80 प्रतिशत तकनीशियन और कार्यबल उत्तर प्रदेश से है, अत: यहां फिल्म सिटी बनने के बाद श्रमबल की उपलब्धता की कभी भी समस्या नहीं होगी.” Also Read - UP: नोएडा के होटल में सेक्‍स रैकेट का खुलासा, 4 युवतियां पकड़ी गईं, 6 लोग गिरफ्तार

बयान के अनुसार, सिंगापुर स्थित एक कंपनी विस्टास मीडिया के संदीप सिंह ने एक करोड़ डॉलर (लगभग 73.51 करोड़ रुपए) के शुरुआती निवेश के साथ एक फिल्म अकादमी स्थापित करने की पेशकश की है.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात करने के लिए फिल्म बिरादरी के कुछ सदस्य लखनऊ पहुंचे थे, जबकि अनुपम खेर और परेश रावल जैसे दिग्गज कलाकार वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से बातचीत में शामिल हुए.

फिल्म निर्माता संघ के अध्यक्ष अशोक पंडित ने राज्य सरकार के फैसले का स्वागत किया और कहा कि हिंदी फिल्मों से परे देखना चाहिये और यहां तक कि बहुभाषी फिल्में भी बनायी जा सकती हैं. बयान के अनुसार गायक उदित नारायण, कैलाश खेर और अनूप जलोटा ने भी निर्णय की सराहना की.