आगरा: रक्षाबंधन का त्योहार भाई-बहन के प्यार का प्रतीक है. बहन जहां भाई की कलाई पर राखी बांधती है, वहीं भाई अपनी बहन की रक्षा का संकल्प लेता हैं. लेकिन आगरा में एक बहन ने अपने भाई की जान बचाकर उसे जीवनदान दिया है. आगरा की रहने वाली वंदना चंद्रा नाम की महिला ने अपने छोटे भाई को किडनी देकर भाई-बहन के इस पावन पर्व पर एक मिसाल कायम की है.Also Read - यूपी: इस रेलवे स्टेशन का भी बदल गया नाम, अब दांदूपुर कहलाएगा बाराही देवी धाम, जानिए किन स्टेशनों के बदले नाम

वंदना के भाई (विवेक) की दोनों किडनी बीमारी की वजह से खराब हो चुकी थी. विवेक ने बताया हम ऐम्स, सफदरजंग, लखनई पीजीआई, वेदांता, अपोलो सहित कई सारे हॉस्पिटल्स में गए लेकिन कोई डोनर नहीं मिला. मेरी हालत खराब होती जा रही थी और समय भी कम बचा था. ऐसे में मेरी बहन आगे आईं और अपनी किडनी देकर मुझे दूसरी जिंदगी दी. Also Read - पति अपनी पत्नी की एक किडनी बेचने की जिद पर अड़ा, वजह जान कर चौंक जाएंगे

वंदना शादीशुदा हैं और उनकी 12 की एक बेटी भी है. बहन ने भाई को किडनी देकर सभी के लिए मिसाल कायम कर दी. वंदना ने कहा, मैं अपने भाई से बहुत प्यार करती हूं. मेरा भाई हर मुश्किल वक्त में मेरे साथ खड़ा रहा है. Also Read - Lucknow Girl से थप्पड़ खाने वाला कैब ड्राइवर बन गया नेता, बोला- अब पुरुषों का मसीहा बनूंगा | Viral हुआ Video

वंदना आगे कहती हैं कि इस बार का रक्षाबंधन मेरे लिए और भी खास है. मेरा भाई अब मौत के मुंह से बाहर आ चुका है, जिससे राखी की खुशी दोगुनी हो गई है.