लखनऊ: उत्तर प्रदेश के सीतापुर जिले में गुरुवार को दरी फैक्ट्री में दम घुटने से सात लोगों की मौत हो गई. मृतकों में तीन पुरुष, एक महिला व तीन बच्चे शामिल हैं. एसडीएम बिसवां सुरेश कुमार ने बताया कि हमें यह पता चला है कि जलालपुर स्थित यह घटना एक एसिड फैक्ट्री में गैस रिसाव के चलते हुई है. लेकिन यह अभी जांच का विषय है. इस हादसे में सात लोगों की मौत हो गई है.Also Read - सपा के शासन में जाली टोपी वाले गुंडे व्यापारियों को धमकाते थे, UP Dy CM केशव मौर्य

Also Read - PM मोदी 7 दिसंबर को यूपी के गोरखपुर में 9600 करोड़ के प्रोजेक्‍ट्स देश को समर्पित करेंगे, AIIMS का भी उद्घाटन करेंगे

घटना की सूचना के बाद पुलिस व स्वास्थ्य विभाग की टीम राहत और बचाव के लिए मौके पर पहुंच गई है. इनके साथ-साथ डीएम और एसपी भी मौके पर पहुंच गए हैं. पुलिस अधीक्षक (एसपी) एलआर कुमार ने बताया कि मरने वाले एक ही परिवार के लोग हैं, जिसमें से 3 बच्चे एक महिला और तीन पुरुष हैं. प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, बगल की फैक्ट्री से तेजाब रिस कर आ गया था जिसकी वजह से गैस बन गई और यह हादसा हो गया. विशेषज्ञों की टीम को मौके पर पहुंच रही है. फैक्ट्री में अत्यधिक बदबू व गैस की वजह से जांच करने में मुश्किलें आ रहीं हैं. वहीं लखनऊ से भी विशेषज्ञों की टीम सीतापुर के लिए रवाना हो गई है. Also Read - Indian Air force ke Fighter Jet मिराज का टायर चुरा ले गए चोर, लखनऊ में FIR दर्ज

योगी ने हादसे पर जताया शोक
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सीतापुर में हादसे पर गहरा शोक व्यक्त किया है. उन्होंने मृतकों के शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना भी व्यक्त की है. मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन के अधिकारियों को तत्काल मौके पर पहुंचने का निर्देश देने के साथ घटना से प्रभावित व्यक्तियों को हर सम्भव राहत देने को कहा है. इसके साथ ही दोषियों के खिलाफ बेहद सख्त कार्रवाई का भी निर्देश दिया है. (इनपुट एजेंसी)