नई दिल्‍ली: ये वीडियो मुरादाबाद केे नवाबपुरा का जहां,  आज यानि बुधावार को कुछ लोगों ने मेडिकल टीम और पुलिस जवानों पर हमला किया. वीडियो में कुछ मकानों की छतों पर लोग दिखाई दे रहे हैं और बड़े- बड़े पत्‍थर फेंकते हुए नजर आ रहे हैं. इस हमले में एक डॉक्‍टर और एक फार्मासिस्‍ट घायल हो गए हैं. एम्‍बुलेंस समेत पुलिस वाहन भी क्षतिग्रस्‍त हो गए हैं. अब पुलिस घटना में शामिल रहे लोगों के खिलाफ विभिन्‍न धाराओं समेत एनएसए भी लगाएगी.Also Read - EC ने सपा को वर्चुअल रैली में कोविड नियमों के उल्लंघन पर जारी किया नोटिस, 24 घंटे में जवाब मांगा

दरअसल, मुरादाबाद में संक्रमित व्‍यक्‍ति को लेने गई मेडिकल और पुलिस टीम पर पथराव हुआ. इसके बाद सुरक्षा के लिए अतिरिक्‍त पुलिस बल पहुंचा. अचानक हुए इस पथराव में घायल एम्‍बुलेंस के ड्राइवर ने बताया था कि जब हमारी टीम और पुलिस कोविड 19 के संदिग्‍ध मरीज को लेकर निकलने लगी, तभी अचानक भीड़ आ जुटी और पथराव शुरू हो गया. कुछ डॉक्‍टर अभी भी घायल हैं. हम जख्‍मी हैं. मरीज की हाल ही में मौत भी हो गई है. Also Read - UP Elections 2022: BJP ने पहली ही लिस्‍ट में दिखाया OBC मैनेजमेंट, विरोधियों के आरोपों का क्‍या हुआ?

Also Read - UP Elections 2022: राष्‍ट्रीय लोकदल ने जारी की 7 उम्‍मीदवारों की अपनी सूची

इस घटना के बाद मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने हमला करने वालों के खिलाफ सख्‍त कार्रवाई करने का निर्देश दिया और उनकी संपत्ति राजसात करके नुकसान की भरपाई करने के लिए कहा है.

चीफ मेडिकल ऑफिसर डॉ. एसपी ने कहा, आज मुरादाबाद में बहुत ही दुर्भाग्‍यपूर्ण वाकया हुआ है, डॉक्‍टरों की एक टीम कोविड 19 पॉजिटिव मरीज (जिसकी हाल ही में मौत हो गई) के परिवार को लेने गए थे, ताकि उन्‍हें क्‍वारंटाइन सुविधा में रखा सके.

एसएसपी अमित पाठक ने इस घटना में शामिल रहे लोगों की पहचान के बाद एक्‍शन लिया जाएगा. मेडिकल टीम के कुछ लोग घायल हुए हैं. यह धारा 144 और महामारी रोग अधिनियम, आपदा प्रबंधन अधिनियम का उल्लंघन है. राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम के तहत कार्रवाई की जाएगी.