हापुड़ : दिल्ली पुलिस में तैनात दरोगा की उत्तर प्रदेश में गोली मारकर हत्या. पत्नी और पुत्री के साथ घर जा रहे दरोगा को लूटपाट के दौरान लूटेरों ने गोली मार दी. सरेआम लूट का विरोध करने पर बीच सड़क दरोगा को गोली मारने के बाद खेतों के रास्ते बदमाश फरार हो गए. हापुड़ जिले की सदर कोतवाली के अंतर्गत आने वाली नंगोला पुलिस चौकी क्षेत्र में बदमाशों की दुस्साहसिक वारदात से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई. गोली की आवाज सुनकर भारी संख्या में ग्रामीण एकत्रित हो गए. ग्रामीणों के मुताबिक लूटेरे वारदात को अंजाम देकर खेतों के रास्ते भाग निकले. मौके पर पहुंचे ग्रामीण आनन-फानन में दरोगा को लेकर हॉस्पिटल पहुंचे, लेकिन डॉक्टरों ने दरोगा को मृत घोषित कर दिया. घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौका-ए- वारदात पर पहुंची, पुलिस के आलाधिकारियों ने भी घटना स्थल का निरीक्षण किया. Also Read - दिल्ली पुलिस ने आधिकारिक रूप से दी 'किसान ट्रैक्टर परेड' की इजाजत, तीन जगहों से निकलेगी रैली

लूट का विरोध करने पर दरोगा को गोली मारी
दिल्ली पुलिस में दरोगा पद पर तैनात सुधीर कुमार हापुड़ सदर कोतवाली क्षेत्र के मोदीनगर रोड स्थित नंगौला में अपने परिवार के साथ रहते थे.वर्तमान में  सुधीर कुमार दिल्ली पुलिस में दरोगा पद पर तैनात थे. दिल्ली के जनपुरा थाने में उनकी पोस्टिंग थी. पुलिस के मुताबिक गुरुवार की दोपहर को वह अपनी पत्नी नीरजा और पुत्री प्रीति के साथ बाजार से सामान खरीद कर बाइक से घर जा रहे थे. गांव नंगौला से करीब आधा किलोमीटर पहले घात लगाकर बैठे बदमाशों ने दरोगा की बाइक रुकवाई इससे पहले कि सुधीर कुमार कुछ समझ पाते बदमाशों ने दरोगा की पत्नी से लूटपाट शुरू कर दी. पुलिस के मुताबिक दरोगा की पत्नी लूट का विरोध किया और वो बदमाशों से भिड़ गई. तब तक सुधीर कुमार को भी माजरा समझ आ गया और वो भी बदमाशों से भिड़ गए. जब बदमाशों को लगा कि वो कमजोर पड़ रहे हैं तो उन्होंने दरोगा सुधीर कुमार को गोली मार दी और मौके से फरार हो गए. Also Read - Farmers Tractor Parade: तो किसानों को नहीं मिली दिल्ली में ट्रैक्टर परेड निकालने की अनुमति? यूनियनों ने पुलिस से मांगी लिखित परमीशन

Also Read - Republic Day 2021: गणतंत्र दिवस से पहले दिल्ली में लगे पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे, पुलिस सतर्क