लखनऊ: यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना महामारी और आगामी त्योहारा के मद्देनजर 30 सितंबर तक सभी धार्मिक उत्सवों, सार्वजनिक त्योहारों व सभाओं पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया है. इस बाबत योगी आदित्यनाथ ने आज पुलिस प्रशासन के साथ बैठक की ताकि इस दौरान एहतियात बरता जाए. Also Read - UP: स्‍टोन व्यवसायी के मर्डर से जुड़े 5 ऑडियो लीक, IPS, IAS और नेताओं के Nexus का खुलासा

23 अगस्त जारी अपने आदेश में यूपी के गृह विभाग ने कहा कि सार्वजनिक रूप से ना ही ताजिया निकाले जाएंगे और न ही मूर्तियों को स्थापित किया जाएगा. बता दें कि गणेश उत्सव और मोहर्रम के मद्देनजर ये फैसला लिया गया है. इसी बाबत योगी आदित्यनाथ ने प्रशासनिक अधिकारियों को संग बैठक की. बता दें कि इस नियम का पालन करना सबी के लिए अनिवार्य किया गया है. Also Read - School Reopening: क्‍या यूपी में 21 सितंबर से नहीं खुलेंगे स्कूल?, डिप्‍टी सीएम ने दिया बड़ा बयान

वहीं अगर नियमों का उल्लंघन करता कोई पाया गया तो उसके खिलाफ सख्त एक्शन लिया जाएगा. गौरतलब है कि मोहर्रम के जुलूस को लेकर काफी विवाद देखने को मिल रहा है. इस दौरान यूपी के लखनऊ और कई शहरों में ताजिया का जुलूस निकाला जाता है. ऐसे में अफवाहों के प्रति सजग रहने को लेकर भी योगी आदित्यनाथ ने आदेश दिया है. बता दें कि कोरोना नियमों के पालन को लेकर भी आदेश जारी किया गया है. Also Read - योगी आदित्यनाथ ने पेंशन के 1,311 करोड़ ऑनलाइन किए ट्रांसफर, इन लाभार्थियों को मिलेगा लाभ