बलिया: भाजपा किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पार्टी के सांसद वीरेंद्र सिंह ‘मस्त’ ने राफेल विमान समझौते को लेकर केन्‍द्र की नरेन्‍द्र मोदी सरकार को घेर रहे राहुल गांधी पर पलटवार करते हुए कहा कि आरोपों के घेरे में कांग्रेस अध्यक्ष का ही परिवार आता है. Also Read - केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट से कहा- राफेल सौदे में FIR या CBI जांच का सवाल ही नहीं, मिल चुकी है क्लीन चिट

आखिर चोर कौन ?
भदोही से भाजपा के सांसद ने यह भी कहा कि मोदी सरकार को राम मंदिर निर्माण के लिए कानून बनाने की दिशा में पहल करनी चाहिए. वीरेंद्र सिंह ने जिले के लालगंज स्थित अपने पैतृक गांव में संवाददाताओं से कहा कि राहुल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बेवजह आरोप लगाते हुए उन्‍हें ‘चोर’ बोल रहे हैं. लेकिन इस आरोप के घेरे में तो खुद कांग्रेस अध्यक्ष का परिवार आता है. Also Read - यूपीए व एनडीए के राफेल सौदे में 'उड़ान योग्य विमान' की कीमत बराबर: कैग की रिपोर्ट

छत्तीसगढ़ चुनाव: कांग्रेस ने जारी की 37 प्रत्याशियों की तीसरी लिस्ट, पाटन से लड़ेंगे भूपेश बघेल
Also Read - सरकार ने राफेल सौदे में गड़बड़ियों के आरोप फिर खारिज किए, कहा- CAG की रिपोर्ट का इंतजार करें

उन्होंने कहा कि देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के समय जीप घोटाले तथा बीमा घोटाले के मुद्दे को उनके दामाद फिरोज गांधी ने ही जोर शोर से उठाया था जिसके चलते तत्कालीन केंद्रीय मंत्री कृष्णमाचारी को इस्तीफा देना पड़ा था. इंदिरा गांधी के समय नागा घोटाला हुआ था, जिसमे केंद्रीय मंत्री केशवदेव मालवीय को त्‍यागपत्र देना पड़ा था.

यूपी की लेडी कांस्टेबल की तस्वीर, जिससे भावुक हुआ पूरा पुलिस विभाग, DGP ने दिया ये तोहफा

भाजपा सांसद ने आरोप लगाया कि राहुल के पिता राजीव गांधी के प्रधानमंत्रितत्व काल में बोफोर्स घोटाला हुआ, जिसमे केंद्रीय मंत्री विश्वनाथ प्रताप सिंह को इस्तीफा देना पड़ा था. राहुल के बहनोई रॉबर्ट वाड्रा के जमीन घोटाले को लेकर हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपेन्दर सिंह हुड्डा को मुख्यमंत्री पद छोड़ना पड़ा और जेल जाना पड़ा. नेशनल हेराल्ड मामले में खुद राहुल और उनकी मां सोनिया गांधी जमानत पर हैं. ‘तो आखिर चोर कौन हुआ.’

UP: शौचालय का अनुदान डकार गए लोग, प्रशासन ने 46 के खिलाफ दर्ज कराया केस

उन्होंने कहा कि कांग्रेस जिस उद्योगपति अनिल अंबानी को लेकर भाजपा पर निशाना साध रही है उस अनिल अंबानी के पिता धीरू भाई अंबानी जब आर्थिक रूप से सशक्त हुए, तब तो कांग्रेस की ही सरकार थी. सिंह ने कहा कि स्वयं को किसान हितैषी बताने वाले राहुल बाजरा और मक्का के पौधे की पहचान नहीं कर सकते. राम मंदिर को लेकर पूछे गए सवाल के जबाब में उन्होंने कहा कि लोग भगवान राम की जन्मभूमि पर भव्य मंदिर के निर्माण की इच्छा रखते हैं. मोदी सरकार को राम मंदिर निर्माण के लिये कानून बनाने की दिशा में पहल करनी चाहिए. (इनपुट एजेंसी)