लखनऊ: उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले के बांगरमऊ कोतवाली क्षेत्र में एक तेज रफ्तार कार पुल की रेलिंग तोड़कर नहर में जा गिरी. बुधवार सुबह नहर में कार का कुछ हिस्सा ऊपर की ओर दिखने पर लोगों ने घटना की सूचना पुलिस को दी. जिलाधिकारी देवेंद्र पांडेय ने बताया कि मौके पर बचाव अभियान जारी है और कार बाहर निकाल ली गई है. कार में कितने लोग सवार थे, अभी स्पष्ट नहीं हो पाया है. Also Read - सड़क दुर्घटना में घायल लोगों का अब हो पाएगा कैशलेस इलाज, सरकार जल्द ही लॉन्च करेगी योजना

Also Read - दो कारों की भिड़ंत में जूना अखाड़े के महंत सहित पांच लोगों की मौत, पांच घायल

हालांकि सूत्रों ने बताया है कि उन्नाव के बांगरमऊ मोहल्ला चौधराना के रहने वाले संजय चौधरी मंगलवार रात रामजी गुप्ता (पुत्र रामना निवासी संडीला रोड), सूरज गुप्ता (पुत्र रमेशचन्द्र निवासी अस्पताल रोड), मिथुन (पुत्र सुंदरलाल निवासी टेढ़ी बाजार) और अजय गुप्ता (निवासी गुलाम मुस्तफा मोहल्ला) के साथ रामलीला देखने कार से संडीला जाने के लिए निकले थे. देर रात संडीला मार्ग पर तेज रफ्तार कार अनियंत्रित होकर बांगरमऊ कोतवाली क्षेत्र के गोसवा शारदा नहर पुल की रेलिंग तोड़ते हुए नहर में गिर गई. सूत्रों के अनुसार, मौके पर पहुंचे एसडीएम और सीओ ने क्रेन से कार को बाहर निकलवाया, लेकिन उसमें कोई नहीं मिला. कार में सवार पांच लोगों के नहर में बह जाने की आशंका है. नौका और गोताखोरों की मदद से तलाशी अभियान शुरू किया गया है. Also Read - लग्ज़री कारें चुराने वाले ऐसे चोर: फिल्मों में की एक्टिंग, पत्रकार भी रहे, बैंकॉक में बनवा रहे थे होटल

देवी के दर्शन करने जा रही पिकअप ट्रैक्‍टर से टकराई, एक ही परिवार के 3 लोगों सहित चार की मौत

गुस्साए परिजनों ने पुल पर जाम लगाया

पुलिस के अनुसार, कार के अंदर किसी के न मिलने पर गुस्साए परिजनों ने पुल पर जाम लगा दिया, जिन्हें समझा-बुझा कर शांत कराया गया और नौका और गोताखोरों की मदद से नहर में लापता लोगों की तलाश शुरू कराई गई है. बचाव कार्य में मदद के लिए लखनऊ से आई एसडीआरएफ की 20 सदस्यीय टीम भी लापता लोगों की खोजबीन में जुट गई है. टीम को कार के अंदर से दो मोबाइल सेट मिले हैं, जिन्हें पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया है.