गौतमबुद्ध नगर: ग्रेटर नोएडा स्थित गलगोटिया कॉलेज में बने क्वारंटाइन होम में रखे गए कोरोना संक्रमण के एक संदिग्ध मरीज युवक ने रविवार की शाम छठी मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली. घटना के बाद से जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग और पुलिस की टीमें घटनास्थल पर मौजूद हैं. घटना ग्रेटर नोएडा के नॉलेज पार्क थाना इलाके की बताई जाती है. Also Read - इस बकरे को रखने को कोई तैयार नहीं, वजह हैरान करने वाली है...

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, आत्महत्या करने वाला युवक सेंटर प्रभारी से कई दिनों से अपनी जांच रिपोर्ट मांग रहा था. उसे रिपोर्ट नहीं दी गई थी. युवक यहां से निकलकर अपने गांव जाने की कोशिश भी कर चुका था. पीड़ित युवक मानसिक तनाव में आ गया. लिहाजा, रविवार की शाम उसने छठी मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली. फिलहाल जिला और पुलिस प्रशासन ने अभी तक युवक की मौत पर कोई अधिकृत बयान जारी नहीं किया है. गौरतलब है कि यह क्वारंटाइन सेंटर जिला प्रशासन ने ही बनाया था. Also Read - Delhi NCR Pollution: गाजियाबाद, ग्रेटर नोएडा में वायु गुणवत्ता 'गंभीर' स्तर पर , इन जगहों की हालत बहुत ही खराब

पता चला है कि इस घटना की जांच अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) के हवाले कर दी गई है. मरने वाले युवक की उम्र करीब 32 साल थी. पता चला है कि गलगोटिया कॉलेज में बने इस क्वारंटाइन सेंटर से पहले भी कई गंभीर शिकायतें आ रही थीं. यहां मौजूद स्टाफ का व्यवहार भी मरीजों के साथ गलत था. स्थानीय प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने मगर इस शिकायतों को लगातार नजरंदाज किया, जिसकी परिणति रविवार को इस घटना के रूप में सामने आई. Also Read - ग्रेटर नोएडा: हवा में आयरन मैन देख लोगों के उड़े होश, बाद में निकला गुब्बारा