लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आवास को बम से उड़ाने की धमकी मिलने के बाद वहां की सुरक्षा बढ़ी दी गई है. कॉल सेंटर पर दी गई धमकी में सीएम आवास और कई अन्य महत्वपूर्ण जगहों को बम से उड़ाने की बात कही गई. प्रशासन ने तुरंत संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री आवास, 5 कालीदास मार्ग की सुरक्षा बढ़ा दी है. बम निरोधी दस्ते व डॉग स्क्वायड की मदद से छानबीन की जा रही है. Also Read - Vikas Dubey Arrested: ऐसा था मोस्टवांटेड गैंगस्टर का साम्राज्य, हफ्तेभर में हो गया ध्वस्त, जानें कैसे, कब, क्या हुआ

रिपोर्ट्स के मुताबिक यह धमकी डायल-112 पर फोन करके दी गई. पुलिस इस बात का पता लगाने की कोशिश कर रही है फोन करने वाला कौन है और कहां से फोन किया गया है. बता दें कि कालिदास मार्ग पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अलावा कैबिनेट मंत्री श्रीकांत शर्मा और कुछ अन्य मंत्रियों के भी सरकारी आवास हैं. Also Read - Kanpur Encounter: विकास दुबे गैंग का हफ्तेभर में हुए खात्मा, कुख्यात गैंगस्टर की उज्जैन से हुई गिरफ्तारी

सूत्रों ने बताया कि धमकी मिलने के बाद श्वान दस्ते और बम निरोधक दस्ते की मदद से छानबीन की जा रही है . पुलिस आसपास के वीआईपी इलाकों में भी सघन चेकिंग कर रही है. सूत्रों के अनुसार धमकी देने वाले का पता लगाने की कोशिश की जा रही है . अज्ञात व्यक्ति ने प्रदेश में 50 अलग अलग अन्य जगहों पर भी बम धमाके करने की धमकी दी है . Also Read - महादेव की भक्ति में तल्लीन हुए यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, किया दुग्धाभिषेक, जानें क्या है वजह

इससे पहले भी मुख्यमंत्री योगी को जान से मारने की धमकी मिल चुकी है. पिछले महीने कामरान नामक व्यक्ति ने प्रदेश पुलिस के सोशल मीडिया हेल्पडेस्क को फोन किया था और सीधे मुख्यमंत्री योगी को बम से उड़ाने की धमकी दी थी. कामरान मुंबई में रहता था और उसे महाराष्ट्र पुलिस के आतंकवाद रोधी दस्ते ने गिरफ्तार किया था.