लखनऊ: अयोध्या में विवादित रामजन्म भूमि-बाबरी मस्जिद मामले में पक्षकार इकबाल अंसारी को जान से मारने की धमकी वाला पत्र लिखने के आरोपी को अमेठी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी सूर्य प्रकाश सिंह अमेठी जिले का रहने वाला है. पुलिस ने उसे फैजाबाद पुलिस को सौंप दिया है. इस मामले में इकबाल अंसारी की तहरीर पर फैजाबाद जिले के थाना रामजन्मभूमि में आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है.

अमेठी जिले की मुसाफिरखाना कोतवाली के दादरा निवासी सूर्य प्रकाश सिंह ने स्पीड पोस्ट से अयोध्या में बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी को धमकी भरा पत्र भेजा. इस पत्र में उसका पद श्री राम जन्मभूमि मुक्ति आंदोलन की गौसेवा वाहिनी का मुसाफिरखाना प्रमुख एवं गौरक्षा प्रमुख हिंदू विश्व हिंदू परिषद प्रखंड मुसाफिरखाना प्रमुख दर्ज है. बुधवार शाम इकबाल अंसारी को यह पत्र प्राप्त हुआ. आठ पन्नों के इस पत्र में चेतावनी भरे लहजे में लिखा हुआ था कि मामले की पैरवी छोड़ दो नहीं तो सीमा पर खदेड़ दिया जाएगा. लिखा गया है कि अगर बाबरी के पक्षकार एक नवंबर को बाबरी समेत सभी जगहों की पक्षकारी छोड़ देते हैं तो उन्हें गले से लगाया जाएगा अन्यथा सीमा पार खदेड़ दिया जाएगा क्योंकि हिन्दुस्तान राजाओं का है.

बाबरी मस्जिद-राम जन्मभूमि: जानिए 490 साल पुराने विवाद का इतिहास

आरोपी को फैजाबाद पुलिस को सौंपा
इकबाल अंसारी की सूचना पर राम जन्मभूमि थानाध्यक्ष प्रद्युम्न सिंह ने अंसारी के आवास पर पहुंच कर जांच पड़ताल की. साथ ही उन्होंने मामला दर्ज करते हुए उच्चाधिकारियों से संपर्क किया. देर रात फैजाबाद पुलिस की सूचना और एसपी अमेठी के निर्देश पर मुसाफिरखाना पुलिस ने आरोपी सूर्य प्रकाश सिंह को गिरफ्तार कर गुरुवार सुबह फैजाबाद पुलिस को सौंप दिया. अमेठी के एसपी अनुराग आर्य ने बताया कि आरोपी को फैजाबाद पुलिस के हवाले कर दिया गया है.