लखनऊ: उत्तर प्रदेश में आंधी-तूफान ने जमकर तबाही मचाई है. रविवार शाम को आए तूफान के चलते 38 लोगों की मौत हुई है. इसके अलावा पचास से अधिक लोगों के घायल होने की सूचना है, जबकि सैकड़ों घरों का नामोनिशान मिट गया है. इसकी आधिकारिक पुष्टि राज्‍य सरकार की ओर से जारी आकड़े में की गई है. यूपी के संभल जिले में आकाशीय बिजली गिरने से एक गांव जलकर राख हो गया. आग के तांडव ने करीब 100 घरों को तबाह कर दिया. तूफान के चलते सबसे ज्‍यादा 6 लोगों की मौत कासगंज जिले में हुई है, जबकि बरेली और बाराबंकी जिले में पांच-पांच लोगों के मौत की पुष्टि हुई है. उधर, मौसम विभाग के अनुसार, पश्चिमी विक्षोभ की वजह से आज यानी सोमवार को भी कुछ जगहों पर सामान्य बारिश हो सकती है.

 

रविवार शाम को यूपी के अलग-अलग हिस्सों में तूफान के बाद भयंकर ओला बारिश भी हुई. फिरोजाबाद में आंधी तूफान के अलावा भयंकर ओला बारिश हुई. खराब मौसम के चलते सोमवार को अलीगढ़, बुलंदशहर, रामपुर में 12वीं कक्षा तक के सभी स्कूलों को बंद कर दिया गया है. सरकार की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, कासगंज में सबसे ज्‍यादा छह लोगों की मौत हुई है. इसके अलावा बरेली और बाराबंकी जिले में पांच-पांच लोगों की मौत की पुष्टि हुई है, जबकि बुलंदशहर और लखीमपुर में तीन-तीन लोगों की जान तूफान ने ले ली. तूफान के चलते यूपी में 50 से अधिक लोगों के घायल होने की पुष्टि राज्‍य सरकार की ओर से की गई है. आंधी-तूफान के चलते यूपी में कुल 117 मकान क्षतिग्रस्‍त हो गए हैं.

मुख्‍यमंत्री ने दिए राहत-बचाव कार्य में तेजी के निर्देश
यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आंधी-तूफान से प्रभावित सभी जिलाधिकारियों और आयुक्तों को निर्देश दिया है कि प्रभावित लोगों को तत्काल राहत मुहैया करायी जाये और घायलों के उपचार की व्यवस्था की जाए. इस दौरान राज्‍य सरकार ने तहसील स्‍तर के सभी अधिकारियों के अवकाश निरस्‍त कर दिए हैं.

 

 

UP: आंधी-तूफान में बाल-बाल बचीं हेमा मालिनी, मथुरा में काफिले के आगे गिरा पेड़

आज भी कुछ जिलों में बारिश की संभावना
मौसम विभाग के अनुसार, सोमवार को राजधानी लखनऊ का न्यूनतम तापमान 19 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि अधिकतम तापमान 38 डिग्री सेल्सियस रहने अनुमान है. मौसम विभाग के निदेशक जे.पी गुप्ता के अनुसार, 14 मई को भी राज्य के कुछ जिलों में सामान्य बारिश हो सकती है. पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने की वजह से हवा का दबाव बढ़ रहा है जिससे बारिश होने के आसार हैं.