गौतमबुद्धनगर: उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्धनगर जिले में यात्रियों को ट्रेन या फ्लाइट की टिकट दिखाकर रेलवे स्टेशन और हवाईअड्डे से आने-जाने की इजाजत होगी. इन्हें अलग से पास की ज़रूरत नहीं होगी. ट्रेन या फ्लाइट का टिकट ही पास माना जाएगा. पुलिस अधिकारी ने इस बात की जानकारी दी. पुलिस अधिकारी ने कहा कि आने वाले दिनों में फ्लाइट और रेल सेवाएं पुन: शुरू होने जा रही हैं, ऐसे में जिन यात्रियों के पास फ्लाइट व ट्रेन के कन्फर्म टिकट हैं उन्हें एयरपोर्ट या रेलवे स्टेशन पर आने-जाने के लिए किसी भी प्रकार के अन्य पास की जरूरत नहीं होगी. Also Read - लॉकडॉउन में दिल्‍ली के एक किसान की दरियादिली, प्‍लेन से 10 प्रवासी श्रमिकों को भेज रहा बिहार

भारत सरकर ने 25 मई से घरेलू उड़ान और 1 जून से ट्रेनों के संचालन का निर्णय किया और इसके लिए ऑनलाइन टिकट बुकिंग की जा रही है. अपर पुलिस आयुक्त आशुतोष द्विवेदी ने कहा, “ड्यूटी पर तैनात सभी पुलिसकर्मी ये सुनिश्चित करें कि कन्फर्म फ्लाइट और रेल टिकट वाले यात्रियों को क्रमश: हवाईअड्डे व रेलवे स्टेशन तक जाने में कोई परेशानी ना हो. उन्हें किसी अन्य पहचान पत्र की जरूरत नहीं होगी.” Also Read - Blouse Designs 2020: लॉकडाउन के बाद प्लान कर रही हैं शादी, तो इन स्टाइलिश ब्लाउज पर डालें एक नजर

गौरतलब है कि कोरोनावायरस संक्रमण के रोकथाम के मद्देनजर लागू लॉकडाउन के बीच राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की नोएडा से लगती सीमा पूरी तरह से बंद हैं. ऐसे में जिला प्रशासन द्वारा जारी किए गए पास के माध्यम से कुछ ही आवश्यक कार्यों से जुड़े लोगों को आवागमन की इजाजत है. Also Read - लॉकडाउन को फेल बताने पर राहुल गांधी पर बीजेपी का पलटवार: झूठ नहीं फैलाएं, दुनिया के आंकड़े देखें