शाहजहांपुर: उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर जनपद के रोजा इलाके में दहेज की मांग पूरी नहीं होने के चलते मुस्लिम समुदाय के एक व्यक्ति ने अपनी बीवी को तीन तलाक देकर घर से  निकाल दिया. पीड़ित पत्नी की शिकायत पर आरोपी शौहर के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज किया है.

प्रेमिका के सामने शख्‍स ने पत्‍नी को मारी गोली, यूपी पुलिस की सतर्कता से ऐसे बची जान

पहली शादी की बात भी छुपाई
पुलिस सूत्रों ने शुक्रवार को मामले की जानकारी देते हुए बताया कि जिले के रोजा थाना क्षेत्र के वरनई इलाके में रहने वाली रिजवाना (25) की शादी हरदोई जिले में रहने वाले शकील के साथ चार साल पहले हुई थी. अब तक मिली जानकारी के मुताबिक शकील पहले से ही विवाहित था और उसके दो बच्चे भी थे. आरोप है कि यह बात रिजवाना तथा उसके परिवार के लोगों से छिपाकर दूसरी शादी करा दी गई.

AMU में आतंकवादी का नमाज-ए-जनाजा पढ़ने की कोशिश, प्रशासन ने तीन कश्मीरी छात्रों को किया निलंबित

दहेज प्रताड़ना का मामला दर्ज 
रिजवाना का आरोप है कि उसका पति उसे मारता-पीटता था और दहेज की मांग करता था. मांग पूरी नहीं होने पर गत 9 अक्टूबर को शकील ने उसे मारा-पीटा और तीन बार तलाक कहकर घर से बाहर निकाल दिया. पुलिस अधीक्षक एस. चिनप्पा ने बताया कि रिजवाना उनके पास आई थी. उसकी शिकायत पर रोजा थाने में शकील तथा उसके परिजन पर दहेज प्रताड़ना का मामला दर्ज कर लिया गया है. पुलिस मामले की जांच कर रही है. (इनपुट एजेंसी)