लखनऊ: उत्तर प्रदेश आतंकवाद निरोधक दस्‍ता (एटीएस) ने सेना की गोपनीय सूचनाएं पाकिस्‍तान की खुफ‍िया एजेंसी को भेजने के आरोप में एक भूतपूर्व सैनिक और एक अन्‍य व्यक्ति को शुक्रवार को गिरफ्तार किया. यह जानकारी पुलिस के एक अधिकारी ने दी. Also Read - पाक से राजस्थान आए करीब 700 लोग 'लापता', केंद्र ने राज्य सरकार को दिए तलाशने के निर्देश

अधिकारी ने बताया कि इन आरोपियों के खिलाफ लखनऊ के एटीएस थाने में सुसंगत धाराओं में मामला दर्ज किया गया है. अपर पुलिस महानिदेशक (कानून-व्‍यवस्‍था) प्रशांत कुमार ने एटीएस द्वारा सेना के पूर्व जवान और एक अन्‍य आरोपी को गिरफ़्तार किये जाने की पुष्टि की है. Also Read - Driving License Latest Update: अब चुटकियों में बन जाएगा ड्राइविंग लाइसेंस, बदल गए हैं नियम, जानिए

इस संदर्भ में शुक्रवार को एटीएस मुख्‍यालय से जारी एक विज्ञप्ति में बताया गया कि उत्तर प्रदेश एटीएस को यह सूचना मिली थी कि हापुड़ जिले के बहादुरगढ़ थाना क्षेत्र के बिहुनी गांव निवासी पूर्व सैनिक सौरभ शर्मा पैसों के लालच में सेना से जुड़ी गोपनीय जानकारी पाकिस्‍तानी खु‍फ‍िया एजेंसी को भेजता है और जासूसी करता है. Also Read - शर्मनाक: नशे में धुत बड़े भाई ने शादीशुदा बहन के साथ किया Rape, वीडियो भी बनाया

विज्ञप्ति के मुताबिक सौरभ शर्मा को आज लखनऊ, एटीएस मुख्‍यालय में बुलाकर पूछताछ की गई. विज्ञप्ति के मुताबिक सौरभ शर्मा ने पूछताछ में अपना अपराध स्‍वीकार किया और बताया कि उसके द्वारा समय-समय पर सेना की गोपनीय सूचनाएं पैसों की लालच में पाकिस्‍तानी महिला को दी गई जिसके बदले में उसके खाते में पैसे मिले.

विज्ञप्ति के अनुसार पूछताछ में सौरभ शर्मा से मिली जानकारी के आधार पर एटीएस की टीम ने गुजरात के गोधरा के पंचमहाल निवासी अनस गितैली को गिरफ़्तार कर लिया है. विज्ञप्ति के अनुसार अनस भी सौरभ शर्मा को पैसे भेजता था.

एटीएस के अनुसार अनस गितैली के बड़े भाई इमरान गितैली को पाकिस्‍तानी खुफि‍या एजेंसी के लिए जासूसी करने के आरोप में पिछले वर्ष 14 सितंबर को गिरफ़्तार किया गया था.

एटीएस के अनुसार आरोपी सौरभ शर्मा को अदालत के समक्ष पेश करके पुलिस हिरासत ली जाएगी जबकि गुजरात में पकड़े गये अनस गितैली को एटीएस टीम ट्रांजिट रिमांड पर लेकर लखनऊ आएगी.

(इनपुट भाषा)