लखनऊ: रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के मुखिया व केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री रामदास आठवले (Ramdas Athawale) ने क्षत्रियों के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण की मांग की है. अठावले ने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात कर क्षत्रियों को 10 प्रतिशत आरक्षण देने की मांग की है.Also Read - प्रशांत किशोर आज बिहार में 3500 किमी की पदयात्रा पश्चिम चंपारण जिले से शुरू करेंगे

इसके साथ ही अठावले ने कहा कि राज्यों को ओबीसी आरक्षण देने का अधिकार देने के लिए केंद्र सरकार जल्द ही एक संशोधन बिल लाने जा रही है. लखनऊ दौरे पर आए आठवले ने पत्रकारों से बताया कि केंद्र सरकार संशोधन बिल ला रही है, जिसके बाद ओबीसी आरक्षण देने का अधिकार राज्यों को मिलेगा. राज्यों को आरक्षण देने के अधिकार पर उन्होंने कहा कि यह वैसे ही है जैसे केंद्र सरकार ने आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग को 10 प्रतिशत आरक्षण देने का प्रावधान किया है. उन्होंने कहा कि यह आरक्षण सभी के लिए है और इसमें जाति या धर्म का कोई लेना देना नहीं है. जो भी आर्थिक रूप से कमजोर हैं उसको इसका लाभ मिलेगा. Also Read - सत्यपाल मलिक को नहीं मिला सेवा विस्तार, अरुणाचल के गवर्नर को मिला मेघालय राज्यपाल का अतिरिक्त प्रभार

उन्होंने बताया कि उनकी पार्टी रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया 26 सितंबर से गाजियाबाद से बहुजन कल्याण यात्रा प्रारंभ करेगी. यह यात्रा प्रदेश के विभिन्न जनपदों से होते हुए 18 दिसंबर को लखनऊ में खत्म होगी. लखनऊ में समापन दिवस पर बहुजन कल्याण महारैली होगी, जिसमें भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और मुख्यमंत्री योगी शामिल होंगे. Also Read - BJP का सपा पर निशाना, कहा- ये पार्टी 30 साल में मुलायम सिंह यादव से अखिलेश यादव तक ही पहुंच पाई

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के बारे में आठवले ने कहा कि आरपीआई बसपा का विकल्प बनेगी. कहा कि उनकी पार्टी दलित और मुस्लिम बाहुल्य सीटों पर चुनाव लड़ना चाहती है. उन्होंने कहा कि इससे बसपा और सपा दोनों को नुकसान होगा. वैसे भी विधानसभा चुनाव जीतना दोनो पार्टियों के लिए संभव नहीं है.

उन्होंने कहा कि वो केंद्र में एनडीए के सहयोगी पार्टी हैं. अब वह उत्तर प्रदेश में दस सीट चाहती है, जहां से उसके प्रत्याशी चुनाव लड़ें. नरेंद्र मोदी सरकार में मंत्री आठवले ने कहा कि बसपा का दलित वोट अब आरपीआई का है. बसपा के ब्राह्मण सम्मेलन पर उन्होंने कहा कि ब्राह्मण भाजपा के साथ है. आरपीआई ही उत्तर प्रदेश में भाजपा को ब्राह्मण और दलित दिलाएगी. इससे पहले केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने लखनऊ के वीवीआईपी गेस्ट हाउस में अपनी पार्टी के नेताओं के साथ बैठक की. वह मौलाना कल्बे जवाद से उनके आवास पर मुलाकात करने गए. उन्होंने आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भेंट की.