उन्नाव: भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व पर उपेक्षा का आरोप लगाते हुए पार्टी के युवा मोर्चा के एक कार्यकर्ता ने राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को अपने खून से पत्र लिखकर शिकायत दर्ज कराई है. आरोप है कि युवा मोर्चा में बाहरी लोगों को तवज्जो दी जा रही है. इसी से नाराज होकर उसने ऐसा कदम उठाया.Also Read - Mumbai: नेता के ऑफिस में कार्यकर्ता के यौनशोषण का आरोप, शिवसेना नेत्री ने पूछा- अब कहां हैं भाजपा के नेता

Also Read - PM Modi’s 71st Birthday: 71 साल के हुए प्रधानमंत्री मोदी, राष्‍ट्रपति, अमित शाह ने दी बधाई, BJP का सेवा-समर्पण अभियान आज से

BJP के इस गेम प्लान से नीतीश हैं नाराज, गठबंधन में पड़ सकती है दरार Also Read - अगर BJP हमारे साथ चुनाव लड़े तो BSP के लिए बड़ा झटका हो सकता है: RPI नेता रामदास अठावले

उत्तर प्रदेश के मोहान विधानसभा क्षेत्र निवासी हरीश महाराज पार्टी के पुराने कार्यकर्ता हैं. उन्होंने अमित शाह व पूनम महाजन को पत्र लिखकर संगठन में उपेक्षा की शिकायत की है. कार्यकर्ता ने लगातार उपेक्षा के चलते हाथ की नस काटकर अपने खून से पत्र लिखा.

मप्र: समन्‍वय समिति की बैठक में उभरा बीजेपी नेताओं का दर्द, जनता के सामने किस मुंह से जाएं

हरीश महाराज ने कहा कि 17 वर्ष की आयु से ही भाजपा से जुड़ा हुआ हूं. मैंने निष्ठावान कार्यकर्ता के रूप में ईमानदारी से जुड़कर पार्टी को मजबूत किया है. कई बार विधानसभा के सामने मैंने लाठी खाई व जेल भी गया, लेकिन पार्टी के युवा मोर्चा में बाहरी लोगों को तवज्जो दिया जा रहा है, जिससे मेरा मन दुखी हो गया है.