उन्नाव (उप्र): उन्नाव में जिंदा जलाई गई दुष्कर्म पीड़िता के परिजन से मुलाकात करने पहुंचे मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य और क्षेत्रीय सांसद साक्षी महाराज का कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने घेराव कर नारेबाजी की. इस दौरान उन्नाव सांसद साक्षी महाराज ने कहा कि मैं अपनी पार्टी के साथ पीड़ित परिवार से मिलने आया हूं. मैं संसद में भी इस घटना को लेकर मुखर रहा हूं. अपराधियों को जल्द गिरफ्तार किया जाएगा. मामले में किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा. साथ ही उन्होंने कहा कि घटना से उन्नाव का नाम भी बदनाम हो रह है.

 

उत्तर प्रदेश के श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य, प्राविधिक शिक्षा मंत्री कमल रानी वरुण और सांसद साक्षी महाराज जब बिहार थाना क्षेत्र स्थित पीड़िता के गांव में उसके परिजन से मिलने पहुंचे तो कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उनका पुरजोर विरोध किया. पुलिस सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने इस दौरान जमकर नारेबाजी की. पुलिस ने उन्हें हटाने की कोशिश की तो उन्होंने विरोध किया. सूत्रों ने बताया कि इसके बाद पुलिस ने बल प्रयोग कर उन्हें खदेड़ा और दोनों मंत्रियों तथा सांसद को पीड़िता के घर पहुंचाया.


मामले में किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा: साक्षी महाराज
इस दौरान उन्नाव सांसद साक्षी महाराज ने कहा कि मैं अपनी पार्टी के साथ पीड़ित परिवार से मिलने आया हूं. मैं संसद में भी इस घटना को लेकर मुखर रहा हूं. अपराधियों को जल्द गिरफ्तार किया जाएगा. मामले में किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा. साथ ही उन्होंने कहा कि घटना से उन्नाव का नाम भी बदनाम हो रह है. गौरतलब है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंत्री मौर्य और कमल रानी वरुण को दिवंगत पीड़िता के परिजन से मुलाकात के लिये भेजा था.