देवरिया: अक्सर कुछ गड़बड़ देखकर भी लोग नहीं बोलते, लेकिन एक बच्चे ने ऐसा नहीं किया. सभी अगर 10वीं में पढ़ने वाले इस बच्चे की तरह सजग हो जाएं, तो हादसों में कमी आ जाए. बच्चे ने टूटी पटरी देखी. उसे ट्रेन आने की आवाज़ सुनाई दी. इसके बाद बच्चे ने दौड़ कर ट्रैकमैन को इसकी जानकारी दी. और ट्रैकमैन के साथ दौड़ लगाकर लाल झंडा दिखाकर टूटी पटरी की तरफ आ रही बाघ एक्सप्रेस को रुकवा दिया. बच्चे की सजगता से बड़ा हादसा टल गया. इसके लिए बच्चे की सराहना की जा रही है.

टूटा ट्रैक देख लगा दी दौड़
बताया जा रहा है कि रविवार की शाम भटनी छपरा रेल डिवीज़न के देवरिया के पास सोहनपुर रेलवे क्रॉसिंग से पटरी टूट गई. 3019 बाघ एक्‍सप्रेस इसी ट्रैक से गुजरने वाली थी. इसी दौरान टूटे ट्रैक पर 10वीं में पढ़ने वाले अभिषेक की नजर पड़ गई. इसी बीच अभिषेक को ट्रेन आने की आवाज सुनाई दी. इस पर तुरंत एक्शन लेते हुए अभिषेक ने कुछ दूरी पर मौजूद ट्रैकमैन की ओर दौड़ा लगा दी. अभिषेक ने पूरी बात बताई. इसके बाद ट्रैक मैन को लेकर अभिषेक ने ट्रेन की ओर दौड़ लगा दी. लाल कपड़ा लिए अभिषेक और ट्रैकमैन ने लाल कपड़ा दिखाया. ड्राईवर ने कुछ गड़बड़ देख ट्रेन पर ब्रेक लगा दिए. हालांकि ट्रेन टूटे के कुछ डिब्बे ट्रैक से गुजर गए, लेकिन तब तक स्पीड स्लो हो गई. इससे हादसा बच गया.

लुधियाना से शादी में आया था अभिषेक
इसके बाद सूचना रेलवे की टीम ने करीब घंटे भर के प्रयास के बाद ट्रैक की मरम्मत किया तो ट्रेन रवाना हुई. बताया जा रहा है कि अभिषेक लुधियाना में रहता है. वह एक शादी में शामिल होने के लिए अपने पिता के साथ गांव आया था.