नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के सीएम बनने के बाद 2017 में पूरे उत्तर प्रदेश में 895 पुलिस एनकाउंटर हुए, जिसमें 26 अपराधियों के मार गिराया गया और 196 अन्य घायल हो गए. Also Read - छत्तीसगढ़: पुलिस मुठभेड़ में 4 माओवादी ढेर, नक्सलियों के पास से बरामद इस हथियार ने उड़ाए होश

डीजीपी सुलखान सिंह के कार्यालय के मुताबिक बीते साल मेरठ जोन में कुल 358 एनकाउंटर हुए. साल 2017 में जिन 26 अपराधियों को मार गिराया गया, उनमें से 17 केवल मेरठ जोन में हुए पुलिस एनकांउटर में मारे गए. Also Read - पैरोल से भागे दाऊद के सहयोगी को दिल्ली पुलिस ने किया गिरफ्तार, पास से मिली 22 लाख की पिस्तौल

2017 में यूपी में हुए पुलिस इनकाउंटर

2017 में यूपी में हुए पुलिस इनकाउंटर

इसमें मेरठ, नोएडा, गाजियाबाद, हापुड़, बुलंदशहर, सहारनपुर, मुजफ्फनगर, शामली, बागपत और बिजनौर जिले शामिल हैं. मेरठ के बाद आगरा जोन का नंबर आता है, जहां 175 एनकाउंटर हुए. इस दौरान 469 अपराधियों को गिरफ्तार किया गया, जबकि 17 गोली लगने से घायल हो गए. तीन बड़े अपराधी एनकाउंटर में मारे गए. मार्च 2017 में नई सरकार के बनने के साथ ही एनकाउंटर आम हो गए. कुल 2,186 अपराधी गिरफ्तार किए गए, जिनमें से 1,680 के सिर पर इनाम था. Also Read - Kanpur Encounter: मोस्टवांटेड अपराधी की श्रेणी में शामिल हुआ विकास दुबे, 5 लाख का रखा गया इनाम

राज्यभर में हुए इन एनकाउंटर में तीन पुलिसकर्मी भी शहीद हो गए और 200 अन्य घायल हो गए. बता दें, पिछले महीने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने राज्य में कानून और व्यवस्था की स्थिति के सुधरने का दावा करते हुए कहा था, राज्य में अपराधी या तो जेल भेज दिए जाएंगे या पुलिस एनकाउंटर में मारे जाएंगे.