रामपुर: अखिलेश यादव अब डॉक्‍टर ऑफ साइंस हो गए हैं. उन्हें डॉक्‍टरेट की उपाधि मिली है. अखिलेश को ये उपाधि यूपी के पूर्व मंत्री आजम खान की रामपुर स्थित मोहम्‍मद अली जौहर यूनिवर्सिटी में दी गई है. यूनिवर्सिटी ने सोमवार को अपना पहला दीक्षांत समारोह मनाया. इसी समारोह में यूपी के पूर्व सीएम और समाजवादी पार्टी के अध्‍यक्ष अखिलेश यादव को डॉक्टरेट की उपाधि दी गई. आजम खान ने अखिलेश को डॉक्‍टर ऑफ साइंस (डीएससी) से सम्‍मानित किया. इस दौरान मुलायम सिंह यादव भी मौजूद रहे.. इस पर अखिलेश यादव ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा ‘मैंने कभी सोचा नहीं था कि मेरे नाम के आगे डॉक्‍टर लगेगा’.

सीएम योगी ने कहा- 10 टॉपर्स को मिलेगा सम्मान, अखिलेश बोले- 11-11 टॉपर स्टूडेंट्स को दूंगा लैपटॉप, देखें दोनों ट्वीट

बोले- ये सम्मान जिंदगी भर के लिए है
सम्मान के बाद पूर्व मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव ने संबोधन में कहा ‘ये सम्‍मान जिंदगी भर के लिए है. इस यूनिवर्सिटी को आगे बढ़ाने के लिए हमें कोई भी मौका मिलेगा, तो हम सहयोग करेंगे’. अखिलेश यादव ने देश की गिरती जीडीपी पर भी निशाना साधते हुए बोला ‘देश आबादी में बहुत बड़ा है. हमारी अर्थव्‍यवस्‍था जो होनी चाहिए थी वो नहीं बची है. अगर हम मैन्‍यूफैक्चरिंग में नहीं जाएंगे तो नौकरियां नहीं दे पाएंगे. दुनिया में जो भी मुल्क आगे बढ़ा है, उसने इंफ्रास्ट्रक्चर और किसानों पर जोर दिया है. हमने ऐसा एक्सप्रेस-वे बनाया जैसा देश में नहीं है.

मुलायम ने छात्रों से कहा- इस मौके को भूलना मत
इस दौरान मुलायम सिंह यादव ने कि छात्रों इस मौके को भूलना मत. जिस कॉलेज में पढ़े हैं, उसका लक्ष्य पूरे समाज को लेकर चलना है. उन्होंने कहा कि हिंदुस्तान आज किसी से पीछे नहीं है. यहां से जो छात्र-छात्राएं जाएंगे, देखते हैं कि देश के लिए वे क्या-क्‍या करते हैं.

बीजेपी अयोध्या को दिए वचनों को जुमला न बनाए : अखिलेश यादव

आजम बोले- मुल्क में न्याय प्रणाली कमजोर हुई ख़त्म हो जाएंगे अरमान
इस मौके पर आजम खान ने कहा कि जिस मुल्क में न्‍याय प्रणाली कमजोर हो जाएगी. वहां स्कूल से लेकर बच्चों और बुजुर्गों तक के अरमान खत्म हो जाएंगे. इससे मुल्‍क ही कमजोर हो जाएगा. बता दें कि सोमवार को आयोजित दीक्षांत समारोह में जौहर यूनिवर्सिटी के 1200 बच्चों को डिग्री दी गई. कार्यक्रम में मुख्य अतिथि नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी के वीसी प्रो. आरके सिन्हा रहे.