UP Assembly Elections 2022: उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान के साथ ही प्रदेश में लाखों करोड़ों रुपये की जब्ती भी शुरू हो गई है. ताजा मामला कानपुर का है जहां पुलिस ने एक नामी कंपनी की कार से 22 लाख रुपये बरामद किए हैं. हालांकि अभी यह पता नहीं चल पाया है कि यह पैसा चुनाव के लिए दिया गया था या नहीं. पुलिस द्वारा बसपा नेता के भतीजे की कार से 50 लाख रुपये जब्त करने के कुछ दिनों बाद यह बात सामने आई है. पुलिस के अनुसार कंपनी के कर्मचारी सहायक दस्तावेज नहीं दिखा सके और नकदी के संबंध में ठोस जवाब देने में भी विफल रहे. पुलिस ने पूरी रकम जब्त कर ली है और स्टेटिक सर्विलांस टीम को भी बुलाया है.Also Read - Noida Hindi News: नोएडा में खुला यूनिक रेस्टोरेंट, जहां रोबोट सर्व करते हैं खाना | देखिए वीडियो

पुलिस ने जब्त किए रुपये

सोमवार की दोपहर फजलगंज थाने की टीम चार खंबा चौराहे पर आदर्श आचार संहिता के अनुपालन में वाहन चेकिंग अभियान चला रही थी. छापेमारी के दौरान पुलिस ने कार की तलाशी ली और 22 लाख रुपये नकद बरामद किए. फजलगंज थाना प्रभारी देवेंद्र कुमार दुबे ने बताया कि वाहन शहर की एक नामी फर्म का है. कार में कैश लेकर कंपनी के कैशियर पवन शुक्ला और दो गार्ड राम कुमार सिंह व हरिपाल सिंह यात्रा कर रहे थे. Also Read - उत्तर प्रदेश: घर में पंखे से लटकी मिलीं भाजपा नेत्री, पति भी लापता

पुलिस ने कहा कि जब उनसे बरामद नकदी के संबंध में विवरण देने के लिए कहा गया, तो वे संतोषजनक जवाब नहीं दे सके. उन्होंने केवल इतना कहा कि पैसा कंपनी का है, लेकिन कोई सहायक दस्तावेज नहीं दे सका. नकदी बरामद होने के बाद फ्लाइंग स्क्वायड और स्टेटिक सर्विलांस टीम को बुलाया गया. कंपनी द्वारा सहायक दस्तावेज प्रस्तुत करने के बाद ही नकदी जारी की जाएगी. (एजेंसी इनपुट्स) Also Read - ग्रेटर नोएडा में पहली Genome Sequencing Lab बनकर तैयार, अब लखनऊ-दिल्ली नहीं भेजने पड़ेंगे सैंपल