लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी को पत्र लिखकर सरदार वल्लभ भाई पटेल की दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा ‘स्टैच्यू आफ यूनिटी’ के नजदीक उत्तर प्रदेश भवन के निर्माण के लिए जमीन आवंटित करने का आग्रह किया है. दरअसल गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों को पत्र भेजकर सूचित किया था कि उनकी सरकार ‘स्टैच्यू आफ यूनिटी’ के नजदीक बनने वाले ‘एक भारत श्रेष्ठ भारत परिसर’ में विभिन्न राज्यों के भवनों के निर्माण की योजना है. योगी ने गुजरात सरकार के इस कदम का स्वागत करते हुए उत्तर प्रदेश भवन के लिए भूमि आवंटन का आग्रह किया है.

 

राज्य सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि गुजरात के मुख्यमंत्री रुपाणी करीब दो सप्ताह पहले भेजे गए पत्र में मुख्यमंत्री योगी ने उनके प्रस्ताव का स्वागत करते हुए ‘एक भारत श्रेष्ठ भारत परिसर’ में उत्तर प्रदेश भवन के निर्माण के लिए भूमि आवंटित करने का आग्रह किया है. योगी ने पत्र में कहा है कि भूमि आवंटन के संबंध में हमें शीघ्र अवगत कराने का कष्ट करें जिससे राज्य सरकार द्वारा प्राथमिकता के आधार पर निर्माण की कार्यवाही शुरू की जाये.

सरदार पटेल की सबसे ऊंची प्रतिमा ‘स्टैच्यू आफ यूनिटी’ का 31 अक्टूबर को उद्घाटन करेंगे पीएम मोदी

पीएम मोदी 31 अक्टूबर को करेंगे ‘स्टैच्यू आफ यूनिटी’ का लोकार्पण
रूपाणी इस आशय की घोषणा कर चुके हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 31 अक्टूबर को ‘स्टैच्यू आफ यूनिटी’ का लोकार्पण करेंगे. नरेंद्र मोदी ने गुजरात के मुख्यमंत्री पद पर रहते वर्ष 2013 में राज्य में सरदार पटेल की दुनिया में सबसे ऊंची प्रतिमा बनाने का ऐलान किया था. इस प्रतिमा की आधारशिला 2013 में पटेल की 138वीं वर्षगांठ के मौके पर रखी गई थी.

लौह पुरूष सरदार वल्लभ भाई पटेल की 182 मीटर ऊंची प्रतिमा का निर्माण
देश के लौह पुरूष सरदार वल्लभ भाई पटेल को श्रद्धांजलि देने के लिए गुजरात के नर्मदा जिले में केवदिया में सरदार सरोवर बंदरगाह से करीब 3.5 किलोमीटर के फासले पर साधू-बेत द्वीप पर बनाई जा रही 182 मीटर ऊंची इस विशिष्ट प्रतिमा के निर्माण पर कुल 2,989 करोड़ रूपए की लागत आएगी. बुधवार को हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने भी रूपाणी का प्रस्ताव मंजूर करते हुए एक भारत श्रेष्ठ भारत परिसर में राज्य भवन बनाने का फैसला किया है. (इनपुट एजेंसी)