लखनऊ: राजधानी से सटे बहराइच की सांसद सावित्री बाई फुले ने कहा कि डॉ. भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा को भगवा कपड़े पहनाना और उन्हें दूध से नहलाना आंबेडकर का अपमान है. बाबा साहेब ने हमेशा मूर्ति पूजा जैसे आडंबर का विरोध किया. उनकी प्रतिमा के ऐसा किए जाने पर बहुजन समाज आहत हुआ है. बता दें कि कुछ दिन पहले यूपी में आंबेडकर की प्रतिमा को कुछ लोगों ने दूध से नहलाकर भगवा रंग के कपड़े लपेट दिए थे. बीजेपी सांसद i ही पार्टी के खिलाफ लगातार बोलती रही हैं. वह कई बार आंदोलन की चेतावनी दे चुकी हैं. सरकार को कटघरे में खड़ा कर चुकी हैं. Also Read - सात महीने बाद सिर्फ एक दिन के लिए खुला 'बांके बिहारी मंदिर', फिर से बंद किए गए कपाट, ये है बड़ी वजह

आंबेडकर करते थे मूर्ति पूजा का विरोध
बीजेपी सांसद सावित्री बाई फुले ने बहराइच में पत्रकारों से बात करते हुए दूध से नहलाकर, भगवा रंग के कपड़े और टीका लगाना भीमराव आंबेडकर का अपमान है. पहले ही उनकी मूर्तियां तोड़कर उन्हें अपमानित किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि आंबेडकर हमेशा ही मूर्ति पूजा के विरोधी थे. जबकि अब कुछ लोग आंबेडकर को भगवान् बनाना चाह रहे हैं. ये अपमान की साजिश है. Also Read - UP: पुलिस का खुलासा, गोंडा का पुजारी खुद पर हमले की साजिश में सरपंच और महंत के साथ शामिल था

सीएम से मिलने के बाद भी कार्रवाई नहीं
बीजेपी सांसद ने कहा कि कुछ समय पहले वह इन घटनाओं को लेकर सीएम से मिली थी. उनसे शिकायत की गई थी, इसके बाद भी ऐसी घटनाओं को अंजाम देने वालों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की जा रही है. आखिर इन्हें कौन और क्यों बचा रहा है. उन्होंने कहा कि बहुजनों की रक्षा के लिए बने कानूनों को कमजोर किया जा रहा है. देश में लगातार दलित विरोधी घटनाएं हो रही हैं. Also Read - 'मिशन शक्ति' शुरू, CM योगी बोले- बेटियों पर बुरी नजर डालने वालों के लिए UP में कोई जगह नहीं