इलाहाबाद. बहुजन समाजवादी पार्टी के नेता राजेश यादव की कल देर रात गोली मारकर हत्या कर दी गई. इस घटना से आक्रोशित उनके समर्थकों ने इंडियन प्रेस चौराहे के पास रोडवेज की एक बस को आग लगा दी. पुलिस के मुताबिक, यादव कल अपने मित्र डॉक्टर मुकुल सिंह के साथ फार्च्यूनर एसयूवी से इलाहाबाद विश्वविद्यालय के ताराचंद हॉस्टल में किसी से मुलाकात करने गए थे.

UP: Tension between 2 groups over Tazia procession route in Muharram | यूपीः मुहर्रम जुलूस के दौरान रूट बदलने से बवाल, आगजनी-फायरिंग में कई घायल 

UP: Tension between 2 groups over Tazia procession route in Muharram | यूपीः मुहर्रम जुलूस के दौरान रूट बदलने से बवाल, आगजनी-फायरिंग में कई घायल 

रात करीब ढाई बजे हॉस्टल के बाहर किसी से उनका विवाद हो गया. कहासुनी ज्यादा बढ़ने पर दूसरे पक्ष ने यादव पर गोली चला दी जो उनकी पेट में लगी. यादव की देर रात अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गयी. सुबह उनकी मौत की खबर फैलते ही उनके समर्थक अस्पताल के निकट स्थित इंडियन प्रेस चौराहे पर एकत्र हो गए और रोजवेज की एक बस को आग लगा दिया. बस पूरी तरह से जल गई.

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विनीत जायसवाल ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए स्वरूपरानी नेहरू चिकित्सालय भेजा गया है. इस संबंध में यादव की पत्नी की ओर से दी गयी शिकायत के आधार पर पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर ली है. इसमें यादव के साथी मुकुल सिंह के खिलाफ नामजद जबकि अन्य अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है. उल्लेखनीय है कि राजेश यादव ज्ञानपुर विधानसभा सीट से पिछले विधानसभा चुनाव में बसपा के प्रत्याशी थे.