कानपुर: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को कानपुर में एक कार्यक्रम के दौरान अपनी आज तक की पहली सेल्फी क्लिक की. मुख्यमंत्री ने गंगा के किनारे सीसामऊ में सेल्फी प्वांइट का उद्घाटन किया. इस दौरान वह स्टीमर से उतरे और एक सेल्फी ली.

 

आदित्यनाथ को निजी तौर पर प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल को लेकर रुढ़िवादी माना जाता है, फिर भी वह डिजिटल युग में विभिन्न नीतियों व कार्यक्रमों को बढ़ावा दे रहे हैं. वह लोगों को अपने साथ सेल्फी लेने से मना करते हैं. दिसंबर 2017 में आदित्यनाथ ने लखनऊ में उनके आधिकारिक निवास कालीदास मार्ग की तरफ जाने वाली सड़क पर लोगों को सेल्फी लेने से प्रतिबंधित कर दिया था.

सोशल मीडिया पर इसकी आलोचना के बाद हटाया
इसे लेकर राज्य पुलिस ने रोड के शुरू होने की जगह पर एक संकेत लगाया था. इसमें कहा गया कि वीआईपी इलाके में तस्वीरें क्लिक करना व सेल्फी लेना अपराध है और इस पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी. सोशल मीडिया पर इसकी आलोचना के बाद इसे हटा दिया गया.